अमिताभ बच्चन की चाबी रहती है इस शख्स के हाथ में, बिना अनुमति के एक शब्द भी नहीं बोलते शहंशाह

0
1

कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, मगर जनता को हो रही असुविधाओं को देखते हुए चरणबद्ध तरीके से पूरे देश से लॉकडाउन हटाया जा रहा है। ऐसे में आमजन धीरे धीरे अपने काम पर लौटने लगे हैं, तो वहीं बॉलीवुड सेलेब्स भी अब फिल्मों और शोज की शूटिंग शुरू कर चुके हैं। इसी कड़ी में सबसे मशहूर और लोकप्रिय टीवी रिएलिटी गेम शो कौन बनेगा करोड़पति भी दर्शकों के बीच लौट आया है, जिसे दर्शक खूब पसंद कर रहे हैं। बता दें कि ये एक ऐसा शो है, जिसने कईयों को फर्श से अर्श तक पहुंचाया है।

इस शो को अमिताभ बच्चन होस्ट करते हैं और उनके मुंह से निकलने वाले हिंदी और उर्दू के शब्दों का बेहतरीन तालमेल लोगों को इस शो का दीवाना बना देता है। बिग बी के होस्टिंग के शानदार लहजे को ही इस शो की सफलता का राज बताया जाता है। मगर आज हम इस शो के बारे में एक ऐसी सच्चाई बताने वाले हैं, जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे। आइये जानते हैं, आखिर क्या है ये सच…

जानिए कौन है वो शख्स जो बिग बी को करता है कंट्रोल

आरडी तैलंग-अमिताभ बच्चन

दरअसल हिंदी और उर्दू के शब्दों का खेल अमिताभ बच्चन नहीं बल्कि कोई दूसरा करता है, जो कैमरे के पीछे है और इस शो को हिट बना रहा है। दरअसल ये एक ऐसा इंसान हैं, जो शो के दौरान बिग बी को मॉनीटर करता है यानी इसकी बात बिग बी भी नहीं काट पाते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं केबीसी के के राइटर आरडी तैलंग की, जो इस शो के हर डायलॉग में अपनी शब्दों से जादू फूंकता है। लिहाजा आरडी तैलंग की ही बताई हर लाइन अमिताभ कैमरे के सामने बोलते हैं और दर्शकों को आकर्षित करते हैं।

आरडी तैलंग ऐसे पहुंचे केबीसी में

आरडी तैलंग

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आरडी तैलंग मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं और सन 2000 से ही कौन बनेगा करोड़पति शो से जुड़े हैं। यानी वे पिछले 20 सालों से इस शो के स्क्रिप्ट तैयार कर रहे हैं। तैलंग ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि मुंबई में काम मिलने के बारे में मैंने सपने में भी नहीं सोचा था, एक पत्रकार के तौर पर अपने करियर की शुरूआत की थी और साल 1995 में एक असिस्टेंट डायरेक्टर बना। इसके बाद लेखन में अपने हाथ आजमाए, क्योंकि लोगों की नजर में राइटर्स की इज्जत होती है, इसलिए मैनें ठान लिया कि मुझे राइटर ही बनना है। तैलंग बताते हैं कि उन्हें साल 2000 में केबीसी से जुड़ने का मौका मिला और उन्होंने पूरी लगन और मेहनत के साथ यहां काम किया और खुद को साबित किया।

तैलंग ने कहा, ‘आज भी डर लगता है अमिताभ सर से’

आरडी तैलंग-अमिताभ बच्चन

अपने इसी इंटरव्यू में तैलंग ने कहा कि मैं पिछले 20 सालों से अमिताभ सर के साथ काम कर रहा हूं, लेकिन आज  भी मुझे उनसे डर लगता है। तैलंग बताते हैं कि मैं जब भी उनके सामने स्क्रिप्ट लेकर जाता हूं, मुझे डर रहता है कि वो कहीं मुझे डांट न दें। उन्होंने बताया कि हम शो में अक्सर चटपटे और रोचक शब्दों का इस्तेमाल करते हैं। बता दें कि चकोटी महामनी, सुईमुई, घड़ियाल बाबू, श्रीमती टिकटिकी, मिस चलपड़ी, कंप्यूटर महाशय, चोटी की कोटी, ताला लगा दें, कंप्यूटर जी, ये सारे शब्द आरडी तैलंग के दिए हुए हैं। इन शब्दों को दर्शक खूब पसंद करते हैं।

आरडी तैलंग-अमिताभ बच्चन

बता दें कि आरडी तैलंग ने टीवी के लिए लिखने के शुरूआत मूवर्स एंड शेकर्स प्रोग्राम के साथ की थी, इस कार्यक्रम में तैलंग शेखर सुमन के लिए लिखते थे। इसके बाद उन्होंने कई म्यूजिकल गेम शोज, अवार्ड शोज, टैलेंट शोज आदि के लिए स्क्रिप्ट राइटिंग का काम किया है।