फूट-फूट कर रोये धोनी,इस महान सख्श का हुआ निधन शोक में डूबा खेल जगत

0
3




भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेट गुरु और रांची क्रिकेट के भीष्म पितामह कहे जाने वाले देवल सहाय का निधन बीते मंगलवार को हो गया। देवल सहाय ने राँची हॉस्पिटल में अंतिम साँस की,निधन के समय इनकी उम्र 73 वर्ष थी। देवल सहाय राष्ट्रीय और स्टेट लेवल के कई क्रिकेटरों को खेल सिखाया है और सभी के सामने पेश किया है। उन कई क्रिकेटर्स में एक भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी हैं।

कई संगठनों में दिया था योगदान

देवल सहाय ने कई संगठनों में अपना योगदान दिया है। देवल सहाय ने दा सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड में निर्देशक के पद पर कार्य किया था,देवल सहाय मेकन में भी मुख्य पद पर रहे इसके अतिरिक्त उन्होंने सीएमपीडीआई में भी मुख्य पद पर रह कर कार्य किया था। देवल सहाय की मृत्य के बाद सारा खेल जगत गहरे शोक में डूब गया है।

इन क्रिकेटरों  को दिलवाई पहचान

आइये आपको उन क्रिकेटरों के नामों से परिचित करवाते हैं जिन्हें एक क्रिकेटर के रूप में देवल सहाय ने तैयार किया। इनमें सबसे पहला नाम शानदार क्रिकेटर और भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का है, एम एस धोनी इन्हें अपना क्रिकेट गुरु मानते थे। धोनी के अतिरिक्त इन्होंने और भी कई क्रिकेटरों को निखार कर मैदान में उतारा है। देवल सहाय ने जिन क्रिकेटरों को तैयार किया है उनके नाम हैं आदिल हुसैम, मुस्तफा,अनवर,धनंजय सिंह। इनके कई स्टूडेंट्स स्टेट लेवल पर क्रिकेट मैदान पर उतर चुके हैं।

राँची क्रिकेट के भीष्म पितामह – देवल सहाय

देवल सहाय की किरदार की एक झलक एम एस धोनी फ़िल्म में देखी जा सकती है। इस आत्मकथा में यह भी देखा जा सकता है कि किस तरह उन्होंने धोनी के एक सफल कप्तान बनने में उनका मार्गदर्शन किया था। देवल सहाय को क्रिकेट में उनके योगदान के लिए राँची क्रिकेट का भीष्म पितामह कहा जाता है।