कानपुर लव-जिहाद मामले में बड़ा खुलासा,धर्म और नाम बदलकर आरोपी खेलता था प्यार जाल का खेल

0
23

देश के अलग-अलग कोने से आते लव जिहाद के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश के कानपुर से आए लव जिहाद का मामला देश में सुर्खियां बटोर रहा है। कानपुर में लगातार इस मामले को लेकर एसआईटी की टीम जांच पड़ताल कर रही है। वहीं जांच पड़ताल के बाद एसआईटी की टीम ने आज अपनी एक रिपोर्ट आईजी को सौंपी दी।

रिपोर्ट के मुताबिक मौजूदा समय में 14 लव-जिहाद के मामले सामने आये है, जिनकी जांच पड़ताल की जा रही है। बता दे इनमें तीन मामलों में लड़कियों ने पक्ष बयान दिए हैं तो 11 मामलों में पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की है। वहीं 11 मामलों में से 8 लड़कियां नाबालिक है।

up-baghpat-love-jihad-nurse-changed-name-for-seven-months-now-tried-to-get-abortion
Social Media

प्रेम जाल में फंसाने की रची साजिश

एसआईटी की रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में जांच रिपोर्ट के मुताबिक तीन आरोपियों ने बकायदा हिंदू नाम बदलकर झूठे दस्तावेज तैयार किए थे और लड़कियों को अपने प्रेम जाल में फंसा कर अपना शिकार बनाया था। फिलहाल सभी मामलों में जांच पड़ताल जारी है। वही एसआईटी के मुताबिक इन आरोपियों को कहीं से फंडिंग होने और इनके संगठित गिरोह के शामिल होने के कोई सबूत नहीं मिले हैं।

धर्म बदलकर रची सजिश

1- फतेह खान बना आर्यन मल्होत्रा

2- ओवैस बना बाबू

3- मुख्तार अहमद बना राहुल सिंह

Social Media

गुस्से में स्थानीय निवासी

बात ताजा मामले की करें तो उत्तर प्रदेश के कानपुर में सामने आए लव जिहाद के मामले में गठित एसआईटी टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट आई जी रेंज को सौंप दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कानपुर के बरा थाना क्षेत्र और थाना किदवई नगर के जूही लाल कॉलोनी में आधा दर्जन मामले में एक धर्म की लड़कियों को दूसरे धर्म के लड़कों के संपर्क में पाया गया है। इसके साथ ही इस मामले में शिकायत दर्ज होने और मामले खुलने के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश का माहौल हैं।

Social media

कुल 14 मामलों की जांच जारी

वहीं इस मामले में विवेचना के लिए एसपी कानपुर दक्षिण द्वारा एक टीम का गठन किया गया। इस टीम में एसपी दक्षिण सीओ, गोविंद नगर एसओ, थाना जूही एसओ के साथ एक एसआई, एक हेड कांस्टेबल और एक कॉन्स्टेबल सहित आठ लोगों की टीम मामले की तफ्तीश से जांच में जुटी हुई है। जांच टीम द्वारा इस तरह के कथित लव जिहाद जैसे मामलों की साल 2019 से 2020 की जांच पड़ताल करने पर कुल 14 मामले सामने आए हैं।

फिलहाल इन सभी मामलों में से कुछ की जांच रिपोर्ट पुलिस को सौंप दी गई है। अब पुलिस एसआईटी टीम के बाद अपने नजरिए से पूरे मामले की जांच पड़ताल में जुटी है