50 रुपए में मज़दूरी, पार्टियों में DJ और अब 15 करोड़ का कारोबारी है यह शख्स, जानिए इनकी तरक्की का राज़

0
28

कहावत है ना अगर किसी चीज़ को शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनात उसे मिलाने में आपकी मदद करती है. ऐसा ही कुछ हरियाणा के एक शख्स के साथ भी हुआ. दरअसल, हरियाणा के रोहतक में रहने वाले अरविंद जो कभी 50 रूपए की दिहाड़ी पर काम किया करते थे, आज की तारीख में 15 करोड़ से ज़्यादा का कारोबार के मालिक है.

अपने पुराने दिनों को याद करते हुए अरविंद ने बताया कि उनके पिता ठेकेदारी करके परिवार का खर्च चलाते थे कि अचानक उनको एक भारी नुक्सान का सामना करना पड़ा. इस नुक्सान के चलते उन्होंने अपना घर ज़मीन सब कुछ खो दिया और यह उनके परिवार के लिए एक बुरा वक़्त था लेकिन उनके पिता ने हार नहीं मानी और एक बार फिर से शुरुआत की.

Social Media

घर की हालत को देखते हुए अरविंद भी पिता की मदद करना चाहते थे मगर वह बहुत छोटे थे. उन्हें समझ नहीं आया कि वह अपने पिता की किस प्रकार से मदद करें तो उन्होंने 16 साल की उम्र से ही मजदूरी करना शुरू कर दिया. कड़ी मेहनत के बाद उन्हें दिन भर के 50 रूपए ही मिलते थे. रकम कम होने के कारण अरविंद के पास पैसे कमाने का कोई दूसरा मौका नहीं था.

अरविंद ने बताया कि उनके इलाके में कुछ म्यूजिक आर्टिस्ट हैं, जिनसे उनकी दोस्ती हुई और काम के बाद उनके साथ उठना बैठना शुरू हुआ. इसी दौरान अरविंद को पता चला कि उनके दोस्त डीजे पार्टियां करके अच्छी कमाई कर रहे हैं, जिससे प्रभावित होकर उन्होंने डीजे का काम सीखा और अपने डीजे के काम से इलाके भर में मशहूर हो गए.

Social Media

अरविंद के जीवन में एक वक़्त ऐसा भी रहा जब इलाके के सभी लोग डीजे पार्टी के लिए सिर्फ उन्हें ही बुलाते थे. धीरे धीरे अरविंद के घर की हालत मजबूत होती चली गई. साल में उन्होंने एल्यूमीनियम ट्रस के कारोबार को शुरू किया. एल्यूमीनियम ट्रस की मांग इस काम में ज़्यादा होती थी और वह ये बात अच्छे से जानते थे.

इसीलिए उन्होंने इंटरनेट की मदद से एल्यूमीनियम ट्रस को लेकर जानकारी हासिल की मगर उन्होंने अपने रिसर्च में पाया कि एल्यूमीनियम ट्रस के इस व्यापार पर चीन का कब्ज़ा है जबकि चीनी एल्यूमीनियम ट्रस की क्वालिटी इतनी अच्छी नहीं थी, जितनी होनी चाहिए थी. इसके चलते कई बार ढांचा गिर जाया करता था.

Social Media

अरविंद ने इस कारोबार को शुरू करने के लिए अपना कदम आगे बढ़ाया उन्होंने एल्यूमीनियम ट्रस के कई व्यापारियों से मुलाक़ात की इसके बाद उन्होंने अपने इस काम की शुरुआत 10 लाख रूपए में की. अरविंद ने बताया कि उनकी जान पहचान इवेंट इंडस्ट्री के कई लोगों से होने लगी, जिसका उनके बिज़नेस को बहुत फयदा मिला.

अरविंद की कंपनी का नाम डेविल है जो आज के टाइम में एक जानी-मानी कंपनी है. अरविंद सालाना 15 करोड़ रूपए का व्यापार करते हैं. अरविंद की कंपनी डेविल छोटे से लेकर बड़े इवेंट तक करती है. जानकारी के लिए बता दें, साल 2019 में अरविंद की कंपनी को भारत की सबसे सर्वश्रेष्ठ ट्रसिंग कंपनी का पुरस्कार भी मिला.