रोहित या विराट? कौन है बेहतर टी-20 कप्तान, गौतम गंभीर ने कर दी बोलती बंद, वीडियो

0
6

इसी महीने की शुरुआत में आकाश चोपड़ा एक बार फिर से गौती के उस बयान से सहमत नजर नहीं आये, जिसमें वो कह रहे थे कि रोहित को टी-20 क्रिकेट में टीम इंडिया का नेतृत्व करना चाहिये।

New Delhi, Nov 24 : गौतम गंभीर और आकाश चोपड़ा सबसे अच्छे दोस्त नहीं हैं, लेकिन उनकी हालिया टिप्पणियों और स्टार स्पोर्ट्स पर एक बातचीत के दौरान काफी कुछ स्पष्ट भी हो गया है, सितंबर में गौती ने धोनी की आईपीएल के दौरान खुद को सातवें नंबर पर उतारने की आलोचना की थी, इस मैच में सीएसके राजस्थान रॉयल्स के दिये 217 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही थी, इसके बाद आकाश चोपड़ा ने गंभीर पर तंज कसते हुए कहा था कि गौतम गंभीर जो कि धोनी की आलोचना करने के लिये जाने जाते हैं।

एक बार फिर असहमत
इसी महीने की शुरुआत में आकाश चोपड़ा एक बार फिर से गौती के उस बयान से सहमत नजर नहीं आये, जिसमें वो कह रहे थे कि रोहित को टी-20 क्रिकेट में टीम इंडिया का नेतृत्व करना चाहिये, गंभीर के इस बयान पर रिएक्ट करते हुए आकाश चोपड़ा ने विराट कोहली का बचाव करते हुए अपने पूर्व टीममेट से पूछा कि क्या रोहित शर्मा आरसीबी को आईपीएल खिताब दिलाने में सफल होंगे।

जमीन-आसमान का फर्क
हाल ही में एक शो के दौरान आकाश चोपड़ा और गौतम गंभीर ने साफतौर पर जाहिर कर दिया है, कि इन दोनों के बीच रिश्ता कैसा है, टीम इंडिया के दोनों पूर्व सलामी बल्लेबाज ने स्टार स्पोर्ट्स के शो में थे, क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारुप में भारत का नेतृत्व किसे करना चाहिये, गंभीर ने इस पर बातचीत शुरु करते हुए कहा कि हम ये नहीं कह रहे कि विराट कोहली बुरे कप्तान हैं, लेकिन रोहित बेहतर हैं, वास्तव में बेहतर भी नहीं, बल्कि कप्तानी में दोनों में जमीन-आसमान का फर्क है।

आकाश ने किया विराट का समर्थन
इसके जवाब में आकाश चोपड़ा ने कहा कि अगले साल होने वाले आईसीसी टी-20 विश्वकप के लिये नये कप्तान के आसपास नई टीम बनाने का समय नहीं है, यानी कुछ ऐसा नहीं है, जिससे टीम की कप्तानी बदली जाए, वो भी तब जब अगले टी-20 विश्वकप से पहले भारतीय टीम को 5-6 टी-20 इंटरनेशनल मैच ही खेलने हैं, ऐसी चीज को जोड़ने की बात नहीं करता जो टूटी ही नहीं है। आकाश जब ये बात कह रहे थे, तो उस समय गौतम गंभीर के चेहरे के हावभाव साफ बता रहे थे कि वो इस टिप्पणी से खुश नहीं हैं, उन्होने इस पर जवाब देते हुए कहा कि जब खिलाड़ियों को आईपीएल प्रदर्शन के आधार पर इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए चुना जाता है, तो भारत के कप्तान को भी उसी आधार पर चुना जा सकता है।