बरेली में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सिरदर्द

0
4




हरियाणा और दिल्ली की तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट को अनिवार्य कर दिया गया है। बीते शनिवार से परिवहन विभाग ने ऐसे वाहनों का काम करना बंद कर दिया है, जिनमें हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं लगी है। इससे वाहनों का तबादला या एनओसी लेने वाले लोग परेशान हो रहे हैं। और लोगो को मायूस होकर विभाग से लौटना पड़ रहा है।

जिले के बिना हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाले वाहन स्वामियों के लिए शासन के निर्देश ने परेशानी बढ़ा दी है। एक ओर परिवहन विभाग में बिना हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाले वाहनों का काम करना बंद कर दिया गया है। वहीं, दूसरी ओर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के लिए न तो फीस ही कट पा रही है और न ही लोग स्लॉट बुक करा पा रहे हैं। इससे लोगों की समस्या बढ़ गई है।

वहीं, हाई सिक्योरिटी नंबर प्ले लगवाने के लिए भी वाहन स्वामियों को दिक्कत हो रही है। उनका कहना है कि जब संबंधित वेबसाइट पर जाते हैं तो वहां अप्रैल 2019 से पुराने वाहनों को स्लॉट नहीं दिया जा रहा है। इसके पीछे तकनीकी गड़बड़ी बताई जा रही है। इससे वाहन स्वामियों के सामने समस्या खड़ी हो गई है। विभाग में काम नहीं हो रहा है और हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने के लिए वेबसाइट काम नहीं कर रही है। और ऑनलाइन डिस्ट्रीब्यूटर ग्राहकों से मनमानी फेस 900 से 2000 तक ले रहे है.

 

सेक्टर-12 निवासी दयाशंकर पांडेय ने बताया कि कार की एनओसी लेनी थी, लेकिन परिवहन विभाग पहुंचे तो पता चला कि बिना हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगे काम नहीं होगा। वेबसाइट पर जाकर नंबर प्लेट बनवाने के लिए फीस कटवाने और स्लॉट बुक कराने का प्रयास किया तो वह भी नहीं हो पाया। ऐसे में समस्या बढ़ गई है।