Whatsapp पर हो रहा OTP स्‍कैम, जानिए कैसा बचें इससे

0
4

नई दिल्‍ली। Whatsapp को दुनिया भर में करोड़ों यूजर्स इस्तेमाल करते है। वही चाहें फोटो भेजना हो, डॉक्‍यूमेंट्स या फिर ऑडिया या मैसेज, हर किसी से सुना जा सकता है कि व्‍हाट्सऐप कर देना। इस ऐप को हैकर्स और स्कैमर्स द्वारा टारगेट करना बेहद आसान है। अधिकतर यूजर्स सावधानी ना बरतने के चलते हैकर्स को मौका दे देते हैं। वही इसके चलते कई खतरे भी सामने आ रहे है। स्कैमर्स और हैकर्स के लिए सबसे आसान तरीका OTP के जरिए वॉट्सऐप अकाउंट का ऐक्सिस पाना है।

जब कभी आप व्‍हाट्सऐप के नए अकाउंट या नए स्मार्टफोन पर सेटअप करते हैं तो आपको अपना रजिस्टर्ड फोन नंबर एंटर करने के बाद, व्‍हाट्सऐप आपके नंबर पर एक OTP भेजता है। व्‍हाट्सऐप को सेटअप करने के लिए आपको यह ओटीपी एंटर करना होगा।

WhatsApp ओटीपी स्कैम में हैकर्स आपके दोस्त के अकाउंट को हैक करके आपको कई सारे मैसेज करते हैं। इसी बीच हैकर्स की तरफ से आपको एक ओटीपी भेजा जाएगा। फिर हैकर्स दावा करेंगे कि वो ओटीपी गलती से आपको फॉरवर्ड हो गया है। इसके बाद हैकर्स आपको आपके नंबर पर आये मैसेज को शेयर करने को कहेंगे। इस तरह जैसे ही आप ओटीपी शेयर करेंगे, तो हैकर्स आपके WhatsApp अकाउंट को लॉक कर देंगे। और आपके WhatsApp अकाउंट पर पूरी तरह से हैकर्स का कंट्रोल हो जाएगा। फिर हैकर्स आपके साथ बैंकिंग घोटाले को अंजाम दे सकता है। इसके अलावा हैकर्स आपसे वित्तीय सहायता की भी मांग कर सकता है।

बचने के लिए करें कुछ ऐसा

  • WhatsApp फ्रॉड की घटनाओं से बचने के लिए यूजर्स को टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • अनजान नंबर से आने वाली WhatsApp लिंक को ओपन नही करना चाहिए। यह कोई बग या हैकिंग सॉफ्टवेयर हो सकता है।
  • WhatsApp पर अनजान नंबर से मिलने वाली फाइल को डाउनलोड नही करना चाहिए।
  • किसी दोस्त या रिश्तेदार के अकाउंट से मिले मैसेज पर भरोसा न करें।
  • अगर किसी दोस्त या रिश्तेदार मैसेज करके पैसे की मांग करता है, तो एक बार दोस्त या रिश्तेदार से फोन करके जरूर कंफर्म कर लें।