प्रवासी मजदूरों के बाद IAS उम्मीदवारों की ऐसे मदद करेंगे सोनू सूद, मां की 13वीं बरसी पर की घोषणा

0
0

सोनू सूद सिर्फ रील लाइफ में ही नहीं बल्कि रियल लाइफ में भी हीरो हैं। कोरोना महामारी के दौर में उन्होंने प्रवासी मजदूरों की बहुत हेल्प की है। लोग उन्हें गरीबों का महिसा तक बुलाते हैं। अब सोनू एक बार फिर लोगों की मदद को आगे आए हैं। इस बार वे IAS उम्मीदवारों की सहायता करने जा रहे हैं। इसके लिए उन्होंने एक स्कॉलरशिप स्कीम भी निकाली है।

हाल ही में सोनू की मां की 13वीं पुण्यतिथि थी। इस मौके पर उन्होंने IAS उम्मीदवारों को स्कॉलरशिप देने की पहल की। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा – 13 अक्टूबर, मेरी मां को गुजरे 13 साल हो गए। वे अपने पीछे शिक्षा की विरासत छोड़ गई। आज उनकी पुण्यतिथि के पर मैं प्राण लेता हूं कि IAS उम्मीदवारों को प्रोफेसर सरोज सूद स्कॉलरशिप के अंतर्गत उनके लक्ष्य को हासिल करने में सहायता करूंगा। बस आप सबकी दुआएं चाहिए। मिस यू मां।


सोनू के इस नेक काम की सोशल मीडिया पर बहुत तारीफ हो रही है। उनके इस ट्वीट को अभी तक 17 हजार से अधिक लोग लाइक कर चुके हैं।

गौरतलब है कि स्टूडेंट्स की हेल्प करने में सोनू सूद हमेशा आगे रहते हैं। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने एक यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर गरीब बच्चों की पढ़ाई में मदद की जिम्मेदारी उठाई थी। इसके अतिरिक्त यदि किसी बच्चे को पढ़ाई के लिए बुक्स या स्मार्टफोन की आवश्यकता हो तो सोनू उसकी मदद जरूर करते हैं।

बताते चलें कि मां की 13वीं बरसी पर सोनू ने एक भावुक संदेश भी साझा किया था। उन्होंने मां की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा था – 13 अक्टूबर, 13 साल हो गए माँ। यहाँ सब ठीक ही चल रहा है। आप होते तो शायद थोड़ा और बेहतर होता। आपकी याद आती है मां।


सोनू सूद का यह भावुक संदेश भी सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुआ था। लोगों ने उन्हें कमेंट कर कहा था कि आपकी मां जहां भी है वहां से आपको देख बड़ा गर्व महसूस कर रही होगी।

वैसे सोनू सूद के इन अच्छे कामों के बारे में आपकी क्या राय है?