ओवैसी के विधायक ने हिंदुस्तान बोलने से किया इंकार, विधानसभा में जमकर हंगामा!

0
4

ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने शपथ ग्रहन के दौरान हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति जताई, विधायक को उर्दू भाषा में शपथ लेनी थी।

New Delhi, Nov 23 : 17वीं बिहार विधानसभा के सत्र का आगाज जहां विधायकों के सदन में प्रवेश करने से पहले सीढियों पर मत्था टेकने जैसी खूबसूरत तस्वीरों के साथ हुआ, तो वहीं ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के विधायक ने हिंदुस्तान ना बोलने से हंगामा मच गया, बताया जा रहा है कि पार्टी के विधायक शपथ के दौरान हिंदुस्तान की जगह भारत बोलने पर अड़े थे, उन्हें हिंदुस्तान बोलने पर आपत्ति थी, सबसे खास बात ये है कि एआईएमआईएम विधायकों के इस रवैये का विरोध सत्ताधारी जदयू की ओर से भी किया गया।

विधायक ने हिंदुस्तान बोलने से किया मना
ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने शपथ ग्रहन के दौरान हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति जताई, विधायक को उर्दू भाषा में शपथ लेनी थी, लेकिन उर्दू भाषा में भारत की जगह हिंदुस्तान शब्द के इस्तेमाल पर आपत्ति जताते हुए उन्होने प्रोटेम स्पीकर से भारत शब्द का इस्तेमाल करने की मांग की, हालांकि बाद में अख्तरुल इमान ने कहा कि वो आपत्ति नहीं जता रहे बल्कि सलाह दी है।

मामले ने तूल पकड़ा
हालांकि तब तक ये मामला तूल पकड़ चुका था, जदयू नेता मदन सहनी ने कहा कि विधायक को हिंदुस्तान बोलना चाहिये था, हिंदुस्तान बोलने में कोई हर्ज नहीं है, वो भारत बोलने पर अड़े हुए थे, जबकि उनके भाषण में भारत की जगह हिंदुस्तान लिखा था, बीजेपी विधायक नीरज कुमार बबलू ने कहा कि जिन्हें हिंदुस्तान बोलने पर दिक्कत है, वो पाकिस्तान जाए, ऐसे लोगों को भारत में रहने का कोई हक नहीं है, ऐसे लोगों को सदन छोड़कर पाक चले जाना चाहिये, ऐसे लोग देश को तोड़ने वाले हैं।

उर्दू में शपथ
आपको बता दें कि एआईएमआईएम विधायकों ने शपथ भी उर्दू में लिया, बता दें कि बिहार में ओवैसी की पार्टी मुस्लिम विधायकों के जीतने के आंकड़े में दूसरे नंबर पर हैं, एआईएमआईएम को बिहार में 5 सीटों पर जीत मिली है, जिसमें अमौर, कोचाधाम, जोकीहाट, बायसी और बहादुरगंज सीट है, ये सीटें सीमांचल की है।