पुलिस चौकी में DSP बेटी को सैल्यूट करते हैं SI पिता, घर पर वही बेटी बनाकर खिलाती है गर्मागर्म खाना

0
8

पिता एसआई के पद तैनात हैं और बेटी उसी थाने में बतौर डीएसपी, दोनों के एक ही जगह पर होने की वजह भी खास है । पढ़ें, ये दिलचस्‍प रिपोर्ट ।

New Delhi, Nov 20: उप पुलिस अधीक्षक शाबेरा अंसारी और उनके पिता सब इंस्पेक्टर अशरफ अली एक ही पुलिस स्‍टेशन में तैनात हैं । पद में ऊंची बेटी को पिता रोज थाने में सैल्‍यूट मारते हैं, लेकिन बेटी होने के नाते शाबेरा घर पर पिता का उतना ही ख्‍याल रखती हैं, उनके लिए खाना भी बनाती हैं । यह मामला है, मध्य प्रदेश के सीधी जिले के मझौली पुलिस थाने का । जहां पिता-बेटी एक ही पुलिस थाने में काम कर रहे हैं, वजह बना लॉकडाउन ।

मझौली थाने में तैनात हैं शाबेरा
पुलिस में तैनात बाप-बेटी की ये जोड़ी है यूपी की । हुआ कुछ यूं कि, यूपी के बलिया के रहने वाले अशरफ अली, मध्य प्रदेश के इंदौर के लसूड़िया थाने में सब इंस्पेक्टर के पद पर सेवा दे रहे हैं । जबकि अशरफ अली की बेटी शाबेरा अंसारी बतौर प्रशिक्षु डीएसपी सीधी जिले के आदिवासी बाहुल्य पुलिस थाना मझौली में प्रभारी के रूप में तैनात हैं ।

लॉकडाउन में मझौली थाने में फंस गए अशरफ
पिछले दिनों एसआई अशरफ अली बलिया गए हुए थे। इंदौर डयूटी पर लौटते हुए वो बेटी से मिलने सीधी जिले पहुंचे । इसी दौरान पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लॉकडाउन घोषित हो गया । अशरफ, वहीं फंस गए। जिस पर पुलिस हेडक्‍वार्टर ने उन्‍हें लॉकडाउन की वजह से सथानीय थाने मझौली में ही ड्यूटी करने का आदेश दिया।

एक ही थाने में काम कर रहे हैं अब
कोरोना के कारण एक ही थाने में काम करने का मौका पिता-बेटी बखूबी निभा रहे हैं, साथ ही कोरोना के खिलाफ मोर्चा संभालने में भी कामयाब रहे हैं । मझौली पुलिस थाने की इंचार्ज शाबेरा अंसारी हैं। पिता अशरफ अली और वो खुद बीस-बीस घंटे तक सेवाएं दे रहे हैं । पद में जूनियर होने के कारण थाने में पिता बेटी को सैल्यूट मारते हैं । उन्‍हें अपनी बेटी पर गर्व है ।