पंजाब से रेस्क्यू की गई 11 माह की मासूम बच्ची, पिता पर घूमी शक की सुई

0
19

हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ स्थित रामशहर के रजवान गांव में 11 माह की मासूम बच्ची को पंजाब से रेस्क्यू किया गया है। बच्ची को रेस्क्यू करने के बाद पुलिस ने जब पूरे मामले की जांच की तो पुलिस के खुद होश उड़ गए। फिलहाल बच्ची को प्रशासन व चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने अपने शिशु शेल्टर होम में ही रखा हुआ है। बता दे यह एक जॉइंट ऑपरेशन था, जिसे पुलिस प्रशासन व चाइल्ड वेलफेयर कमिटी में मिलकर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था। इस स्टिंग ऑपरेशन में 11 माह की बच्ची के साथ ही अन्य तीन बच्चों को भी शेल्टर होम में रखा गया है।

himachal-pradesh-story-11-month-old-innocent-girl-rescued-from-punjab
Social Media

मामले की जांच पड़ताल में सामने आया कि बच्ची के पिता ने खुद अपनी बच्ची को दूसरे परिवार को दे दिया था। दरअसल उसकी पत्नी मानसिक रूप से बीमार थी। ऐसे में वह बच्ची की देखरेख नहीं कर पा रहा था, जिसके बाद उसने अपनी बच्ची को दूसरे परिवार को दे दिया।

वहीं इस मामले की जांच कर रही चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने शक जताया है कि व्यक्ति ने अपनी बच्ची को उस परिवार को बेच दिया था, जिसके बाद स्थानीय पुलिस की मदद से बच्ची को रेस्क्यू कर सोलन स्थित शेल्टर होम में रखा गया है। चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने बताया कि व्यक्ति के तीन बच्चों को भी शिशु ग्रह शिमला में रखा गया है।

himachal-pradesh-story-11-month-old-innocent-girl-rescued-from-punjab
Social Media

चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने बताया कि उन्हें बच्चे के गायब होने के बाद से व्यक्ति पर शक था। व्यक्ति की गतिविधियां काफी संदिग्ध लगी, जिसके बाद चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने नालागढ़ पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर इस पूरी जांच की कार्रवाई को अंजाम दिया। फिलहाल व्यक्ति की तीनों बेटियां और बेटा अब सुरक्षित है। उन्हें चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने शिमला के शिशु गृह में रखा हुआ है।

himachal-pradesh-story-11-month-old-innocent-girl-rescued-from-punjab
Social Media

इस मामले पर चाइल्ड वेलफेयर कमिटी के चेयरमैन विजय लांबा का कहना है कि व्यक्ति पर शक था, कि उसने अपनी 11 माह की बच्ची को चंद पैसों के लिए भेज दिया है। उसके परिवार में उसके अलावा उसकी मांसिक रूप से बीमार पत्नी और बुजुर्ग लोग हैं, जो बच्चे की देखभाल नहीं कर सकते थे लिहाजा बच्चों को सुरक्षित स्थान पर भेज दिया गया है। फिलहाल मामले की जांच और पूछताछ जारी है।