तेजस्वी के हमलों के बीच नीतीश के भ्रष्ट मंत्री से मिलने पहुंचे RJD सांसद, मुलाकात के बाद कही ऐसी बात!

0
3

तेजस्वी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा था कि भ्रष्टाचार के अनेक मामलों में भगोड़े आरोपी को शिक्षा मंत्री बना दिया, अल्पसंख्यक समुदायों में से किसी को भी मंत्री नहीं बनाया।

New Delhi, Nov 18 : बिहार सरकार के खिलाफ चुनाव में धांधली तथा कैबिनेट में भ्रष्टाचारियों को शामिल करने का आरोप लगाते हुए तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है, यही वजह है कि उन्होने नीतीश को सीएम पद की शपथ लेने पर मुलाकात कर बधाई भी नहीं दी, वो नीतीश सरकार में शिक्षा मंत्री बनाये गये डॉ. मेवालाल चौधरी को भ्रष्ट बताते हुए हमलावर हैं, उन्होने कहा कि अल्पसंख्यक समाज के व्यक्ति को मंत्री नहीं बनाया गया, भ्रष्टाचार के आरोप को शिक्षा मंत्री बना दिया। इस बीच राजद सांसद अशफाक करीम ने नीतीश के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी को बधाई देने से खुद को रोक नहीं सके, उन्होने मुलाकात कर बधाई दी है।

बाद में सफाई
मामले को गरमाता देख तुरंत अशफाक करीम के तेवर बदल गये, उन्होने कहा कि वो जदयू नेता मेवालाल चौधरी को नहीं बल्कि बिहार के नये शिक्षा मंत्री को बधाई देने आये हैं, mewalal choudhary तेजस्वी यादव का विरोधी दल होने के नाते सरकार पर जो आरोप है, वो अपनी जगह है, वो सरकार के शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर बधाई देने आये हैं।

तेजस्वी ने साधा था निशाना
आपको बता दें कि तेजस्वी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा था कि भ्रष्टाचार के अनेक मामलों में भगोड़े आरोपी को शिक्षा मंत्री बना दिया, अल्पसंख्यक समुदायों में से किसी को भी मंत्री नहीं बनाया, सत्ता संरक्षित अपराधियों की मौज है, रिकॉर्ड तोड़ अपराध की बहार है, कुर्सी के खातिर क्राइम, करप्शन और कॉमनालिज्म पर मुख्यमंत्री जी प्रवचव जारी रखेंगे।

आरोप बेबुनियाद
बिहार सरकार के नये शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उन पर लगे आरोप बेबुनियाद है, भ्रष्टाचार के किसी भी मामले में उनकी संलिप्तता नहीं है, मामला कोर्ट में है, और न्यायालय का फैसला सर्वमान्य होगा, कुछ लोग बेवजह मुझ पर आरोप लगा रहे हैं, अभी तक किसी भी मामले में मुझ पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है।