एक तरफा था प्यार में पागल प्रेमी ने तीन बहनों पर फेंका था तेजाब, पुलिस ने देखते ही चला दी गोली

0
4993

तीन सगी बहनों पर एसिड अटैक करने वाले आरोपी को उत्तर प्रदेश पुलिस ने पकड़ लिया है। बताया जा रहा है कि इस आरोपी को जब पुलिस पकड़ने गई तो ये भागने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान पुलिस ने इस फर गोलियां चला दी और ये घायल हो गया। जिसके बाद गोंडा पुलिस ने इसे जिला अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां पर इसका इलाज चल रहा है।

तीन बहनों पर फेंका था तेजाब

उत्तर प्रदेश के गोंडा के परसपुर थाना क्षेत्र के पसका गांव की रहने वाली तीन सगी बहनों पर इस आरोपी ने तेजाब फेंक दिया था। तेजाब के कारण ये तीनों बहनें बुरी तरह से झुलस गई थी। इस समय इन तीनों बहनों का इलाज अस्पताल में चल रहा है।

तीनों पीड़ित दलित समुदाय की है। पुलिस के अनुसार जब ये तीनों बहनें एक साथ कमरे में सो रही थी। उस समय कमरे की खिड़की से आरोपी ने घर में घुसकर तीनों के ऊपर एसिड फेंक दिया। इस घटना में दो बहनें मामूली रूप से घायल हुई हैं। जबकि एक बहन के चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों पर भी एसिड पड़ा है। इन बहनों की उम्र 8, 12 और 17 साल की है।

एक तरफा था प्यार

पुलिस के अनुसार एक तरफा प्यार होने के कारण आरोपी ने तीनों बहनों पर तेजाब फेंका है। तेजाब फेंकने के बाद से ये आरोपी फरार था। वहीं आरोपी की पहचान होने के बाद इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की चार टीमें बनाई गई थी।पुलिस को इस आरोपी के करनैलगंज कोतवाली क्षेत्र के हुजूरपुर मोड़ में होने की जानकारी मिली थी। जिसके बाद पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर इसे गिरफ्तार करने की कोशिश की। लेकिन इस आरोपी ने भागने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस को इस पर गोली चलानी पड़ी। वहीं घायल होने के बाद इसे पुलिस ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

इस पूरी घटना के बारे में जानकारी देते हुए अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने बताया कि एसिड अटैक के आरोपी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी के पैर में गोली लगी है और इस समय जिला अस्पताल में वो भर्ती है। पुलिस को आरोपी के पास से तमंचा और कारतूस भी मिले हैं।

वहीं दूसरी तरफ आरोपी के परिवार वाला का कहना है कि उनकी बेटे ने कुछ नहीं किया है। उसे फंसाया जा रहा है।