सड़क किनारे ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने पास जाकर देखा तो पाया खुद के बैच का अधिकारी

0
4

सड़क पर भीख मां रहा शख्‍स एक जमाने का पुलिस अधिकारी हो सकता है, ये जानने में कितनी हैरानी हो रही है । कुछ ऐसा ग्‍वालियर में हुआ है ।

New Delhi, Nov 14: सड़क पर बैठा ठंड से ठुठरता हुआ एक भिखारी, राह चलते डीएसपी ने जब उसकी मदद करनी चाही और उसे पास पहुंचे तो ये देखकर चौंक गए कि वो भिखारी कोई और नहीं बल्कि एक जमाने में उनका बैचमैट रहा शख्‍स है । अधिकारी उसे इस हाल में देखकर निशब्‍द हो गए । एकदम फिल्‍म सी लग रही ये कहानी ग्‍वालियर की सच्‍च्‍ी घटना हैं । जहां अपनी गाड़ी से घर जा रहे डीएसपी ने ठंड से ठिठुरते एक भिखारी को देखकर उसकी मदद करनी चाहती तो पता चला कि वो भिखारी, उनके ही बैच का ऑफिसर है ।

ये है पूरा मामला
मिली जानकारी के अनुसार ग्वालियर उपचुनाव की काउंटिंग के बाद डीएसपी रत्नेश सिंह तोमर और विजय सिह भदौरिया झांसी रोड से गुजर रहे थे । जब दोनों बंधन वाटिका के फुटपाथ से होकर गुजरे तो सड़क किनारे एक अधेड़ उम्र के भिखारी को ठंड से ठिठुरता हुए देखा । गाड़ी रोककर दोनों अफसरों ने भिखारी की मदद की ठानी और उसे जूते और अपनी जैकेट दे दी । इसके बाद जब दोनों ने उस भिखारी से बातचीत शुरू की, तो दोनों हैरान रह गए । वह भिखारी डीएसपी के बैच का ही अफसर निकला ।