प्यार का सौदा पड़ गया महंगा, आनन-फानन में दरोगा जी को मलमास में करनी पड़ी शादी!

0
0

इस दौरान दरोगा और काजल की शादी के गवाह इंस्पेक्टर वकील प्रसाद यादव, थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय, दरोगा विजय शंकर सिंह समेत कई लोग बने।

New Delhi, Oct 14 : बांका जिला पुलिस बल में तैनात 2018 बैच के प्रशिक्षु दरोगा छोटू कुमार का प्रेम प्रसंग अपने गृह जिला शेखपुरा बाजार निवासी काजल कुमारी से विगत 4 सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जब काजल और दरोगा जी का प्रेम प्रसंग शुरु हुआ था, तो छोटू नौकरी नहीं करते थे, बिहार पुलिस में दरोगा बनने के बाद छोटू कुमार की परिजन उनकी शादी अलग कराने की तैयारी में थे।

काजल पहुंची थाने
प्रेमी की शादी की जानकारी मिलते ही प्रेमिका काजल फौरन बांका पहुंची और जिला पुलिस कप्तान अरविंद कुमार गुप्ता से मिलकर अपनी और दरोगा जी को प्रेम कहानी का दास्तां सुनाते हुए न्याय की गुहार लगाई, काजल नवादा जिला के रजौली में एएनएम ट्रेनिंग कर रही है।

शादी को तैयार
मामले की जानकारी होने पर बांका जिले के पुलिस महकमे में वरीय अधिकारियों में खलबली मच गई, जिला के बड़े साहब की नाराजगी तथा वरीय पुलिस अधिकारियों के दबाव में दरोगा छोटू कुमार शादी के लिये राजी हो गये, मामले की जानकारी दरोगा जी ने अपने घर वालों को दी, हालांकि परिजन शादी में शामिल नहीं हुए, काजल के परिजन मौके पर उपस्थित थे, आनन-फानन में दरोगा छोटू कुमार और प्रेमिका काजल कुमारी की शादी दरोगा जी के पदस्थापन वाले अमरपुर थाना स्थित हनुमान मंदिर में कराई गई।

शादी के गवाह
इस दौरान दरोगा और काजल की शादी के गवाह इंस्पेक्टर वकील प्रसाद यादव, थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय, दरोगा विजय शंकर सिंह समेत कई लोग बने, इस शादी समारोह में अमरपुर थाना के थानाध्यक्ष समेत पुलिस वाले बाराती बने, शादी संपन्न होने पर थाना परिसर में मिठाई भी बांटी गई, इस तरह प्रेमिका की जिद सफल रही।