जाने, लालची कहे जाने पर क्या कहते है ‘बाबा के ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद

0
3

‘बाबा का ढाबा’ के बाबा ने बीते दिनों उनकी मदद करने वाले यू-ट्यूबर गौरव वासन पर आरोप लगाया कि उन्होंने मदद में आई रकम के साथ हेराफेरी की. इतना ही नहीं, बाबा ने उनके खिलाफ FIR तक दर्ज करा दी थी जिसके चलते गौरव ने बाकि की बची रकम भी बाबा को दे दी और अब मालवीय नगर पुलिस ने इस मामले को लेकर आईपीसी की धारा 420 के तहत चीटिंग का केस दर्ज कर दिया है.

लक्ष्य चौधरी की वीडियो ने किया खुलासा

25 अक्टूबर को यह मामला सबके सामने आया जब यू-ट्यूबर लक्ष्य चौधरी ‘बाबा का ढाबा’ पर पहुंचे. लक्ष्य ने एक वीडियो बनाया जिसमे गौरव पर बाबा की मदद में आई रकम की हेराफेरी का आरोप लगा. उस वीडियो में बताया कि गौरव के खाते में ज़्यादा रकम आई हैं, जो उसने बाबा को अब तक नहीं दी हैं. लक्ष्य के वीडियो पोस्ट करते ही गौरव ने अगले दिन ही बाबा को 2 लाख 33 हज़ार 677 रुपये का चेक काटकर दिया.

Social Media

इस पूरे मामले से परेशां गौरव ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक पोस्ट शेयर किया, जिसमे वह अपना बैंक खाता कि डिटेल्स लेकर सबके सामने आए. गौरव का कहना था कि उनके पास पेटीएम ना होने के कारण ही उन्होंने अपनी पत्नी की पेटीएम डिटेल्स पोस्ट की. गौरव ने कहा- लोगों ने जितनी भी रकम बाबा की मदद के लिए भेजी थी, वह सब उनको लौटा दी गई हैं.

बाबा ने लगाए गौरव पर यह आरोप

‘बाबा के ढाबा’ के बाबा ने 31 अक्टूबर शिकायत दर्ज करवाने के बाद सोशल मीडिया से बात करते हुए बताया कि “गौरव ने हमारे साथ धोका किया है. उसने सोशल मीडिया पर अपना , अपनी बीवी और अपने भाई के बैंक खाते की डिटेल्स दी थी. साथ ही एक वीडियो में पता चला कि गौरव किसी से बाबा की मदद में आए 20 लाख रूपए की बात कर रहे थे मगर हैरानी की बात तो यह है कि मेरा खाता सील्ड है, फिर गौरव को कैसे पता मेरे खाते में 20 लाख रूपए आए हैं?

Social Media

बाबा का कहना तो यह तक था कि गौरव के तीन खाते थे, तो पैसे उनके खाते में आए वरना उनको कैसे पता चलता मेरे खाते में कितने पैसे है, कितने नहीं? गौरव ने मुझे 26 तारिख को दो लाख दिए, उसके बाद उनकी तरफ से मेरे पास एक भी रकम नहीं आई. गौरव ने खाता भी तब हटाया जब उनको लगा कि अब खुलासा हो जायेगा क्यूंकि, मैं पढ़ा लिखा तो नहीं हूँ, मुझे नहीं मालूम कि क्या सच है क्या झूट?, मैंने ने तो कंप्लेंट में वही लिखा जो पेपर में आया.

Social Media

बाबा के वकील ने दी सफाई

बाबा के वकील ने बताया कि बाबा और गौरव के बीच का यह मामला मिसकम्युनिकेशन गैप के चलते सोशल मीडिया पर बढ़ता ही चला गया. उन्होंने कहा बाबा के खिलाफ लोगों ने कई बुरी बातें बोलीं, उनपर प्रेशर बन रहा है, उनके लिए बुरी भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है, उनको लालची तक कहा जा रहा है, अगर बाबा ऐसे होते तो बैंक खाते में इतना पैसा पड़ा होने के बावजूद रोज़ खाना बनाने दुकान न जाते.

Social Media

वकील का कहना था कि गौरव ने अपने फेसबुक अकाउंट पर सिर्फ 10-17 अक्टूबर तक की बैंक स्टेटमेंट दिखाई है. बाकि 17-25 अक्टूबर तक की बैंक स्टेटमेंट का हिसाब मांगने पर वह चेक देने क्यों आए? इस बीच गौरव ने बाबा को चेक क्यों नहीं दिया और जब बाबा के पास अपना खुद का एक अकाउंट था तो गौरव ने वीडियो में अकाउंट डिटेल्स गलत क्यों दिखाया?

Social Media

बता दें, गौरव का क्लेम हटाते हुए अपने जवाब में बाबा ने कहा कि 80 साल की उम्र में यह सब देखना पड़ेगा, उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था. सच आखिर क्या है यह तो वक़्त ही बताएगा. इस मामले में फिलहाल पुलिस की जांच पड़ताल के बाद ही मालूम पड़ेगा कि कौन आरोपी है.