बेटे व पार्टी की हार पर छलका शत्रुघ्न सिन्हा का दर्द,क्या बोले सिन्हा, जानिए

0
16

बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के जिन नेताओं ने अपने लाडलों को चुनावी मैदान में उतारा था, उनमें से कई को हार मिली है. आपको बता दूँ इन चुनावों में इस बार राजनीतिक किस्मत आज़माने मैदान में उतरे लव सिन्हा लव सिन्हा को भी इस चुनाव में हार का समना करना पड़ा है. वहीं बेटे और बिहार में पार्टी का अच्छा प्रदर्शन ना कर पाने पर कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा का दर्द सोशल मीडिया पर छलका है.

बांकीपुर विधानसभा सीट से चुनाव में उतरे कांग्रेस प्रत्याशी लव सिन्हा को बीजेपी के नितिन नवीन ने हरा दिया है. बेटे की हार के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि लव, हमें आप पर बहुत गर्व है. कई लोग आपसे सीख सकते है, जब मैंने शुरुआत की तो आपने ईमानदारी, पूरी लगन और लगन के साथ काम किया. उन्होंने आगे लिखा कि यह अंत नहीं है, आगे के भविष्य के लिए शुभकामनाएं.

बिहार में कांग्रेस के वो लाडलें जिन्होंने सुर्खियां बटोरी पर वोट में खा गए मात

कांग्रेस नेता ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि कल पूरी तरह से उत्साह, अपेक्षाओं, प्रत्याशा, भ्रम, चिंता और उथल-पुथल का माहौल था. EVM के साथ, जो न केवल ‘चुनावी वोटिंग मशीन’ नहीं, बल्कि कईयों के अनुसार ‘हर वोट मोदी’ मशीन है. भाजपा से कांग्रेस में शामिल हुए सिने स्टार और पटना साहिब के पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र लव सिन्हा को बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया गया था. बता दें कि बिहार में सत्ता विरोधी लहर और विपक्ष की कड़ी चुनौती को पार करते हुए नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) ने 243 सीटों में से 125 सीटों पर जीत प्राप्त की है.