Bihar- टिकट की रेस से बाहर हुई तेज प्रताप यादव की पत्नी और साली, अंतिम समय में हो गया खेल

0
0

लालू के बड़े लाल तेज प्रताप यादव ने भले ही अपनी सीट बदल ली, लेकिन ऐश्वर्या राय इस बार भी चुनावी मैदान में नहीं आई।

New Delhi, Oct 14 : बिहार चुनाव में इस बार लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की पत्नी और साली दोनों नहीं दिखेंगी, दरअसल चुनाव में टिकट की रेस में इस बार जिन दो चेहरों का नाम बड़ी तेजी से सामने आ रहा था, उनमें से एक लालू परिवार की बहू ऐश्वर्या राय और दूसरी उनकी चचेरी बहन करिश्मा थी, लेकिन दोनों ही फिलहाल टिकट की रेस से बाहर हो गई है, ऐसे में कयास लगाये जा रहे थे, कि तेज प्रताप यादव के विरोध में उनकी पत्नी ऐश्वर्या को जदयू मैदान में उतार सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

सीट बदल ली
लालू के बड़े लाल तेज प्रताप यादव ने भले ही अपनी सीट बदल ली, लेकिन ऐश्वर्या राय इस बार भी चुनावी मैदान में नहीं आई, दूसरी ओर तेज प्रताप की साली जिन्होने करीब 4 महीने पहले राजद की सदस्यता ली थी, aishwarya1 को भी पार्टी ने इस बार विधानसभा की टिकट नहीं दिया है, करिश्मा बिहार के पूर्व सीएम दरोगा प्रसाद राय के परिवार से है, जिनके राजद में आने के साथ ही इस बात के कयास लगने तेज हो गये थे, कि वो इस बार चुनावी मैदान में होगी, लेकिन करिश्मा राय को भी टिकट नहीं मिला है।

कयास पर विराम
उनके दानापुर और परसा दो विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ने की चर्चा थी, लेकिन लालू प्रसाद यादव की पार्टी ने इन दोनों जगह से अपने उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर कयास पर फिलहाल विराम लगा दिया है, दानापुर सीट से जहां राजद ने इलाके के बाहुबली और डॉन कहे जाने वाले रीतालाल राय को अपना सिंबल दिया है, वहीं परसा सीट राजद नेता छोटे लाल राय के खाते में गई है, ऐसे में करिश्मा के लिये दोनों रास्ते फिलहाल बंद हो गये हैं, करिश्मा ऐश्वर्या की चचेरी बहन है, जिन्होने चुनाव लड़ने के उद्देश्य से ही पार्टी ज्वाइन की थी, हालांकि उन्होने कहा था कि पार्टी मुझे जो भी काम देगी उसे मैं बखूबी निभाऊंगी, लेकिन फिलहाल उनके चुनाव लड़ने की संभावनाएं इस बार खत्म हो चुकी है।

ससुर जदयू से ठोक रहे ताल
बिहार विधानसभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव के समधी और तेज प्रताप यादव के ससुर चुनावी मैदान में हैं, चंद्रिका राय ने हाल ही में राजद छोड़ जदयू का दामन थामा है, नीतीश की पार्टी ने उन्हें फिर से उम्मीदवार बनाया है, चंद्रिका राय महागठबंधन सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं।