IPL के दौरान हुई थी मुलाकात, IT की नौकरी छोड़ RJD से जुड़े, कौन है तेजस्वी के सलाहकार संजय?

0
12

तेजस्वी के 37 वर्षीय राजनीतिक सलाहकार संजय यादव हरियाणा के महेन्द्रगढ डिले के नांगल सिरोही गांव के रहने वाले हैं।

New Delhi, Nov 10 : बिहार विधानसभा चुनाव के शुरुआती रुझानों में एनडीए और महागठबंधन में जबरदस्त टक्कर देखने को मिल रही है, राजद के नेतृत्व वाले महागठबंधन भी सत्ता के करीब दिख रही है, हालांकि एनडीए से थोड़ा पीछे है, महागठबंधन के इस प्रदर्शन का श्रेय पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी को जाता है, इस चुनाव में तेजस्वी को कई चुनावी रणनीतिकारों का साथ मिला है, खासकर उनके राजनीतिक सलाहकार संजय यादव को बड़ा श्रेय दिया जा रहा है, मूल रुप से हरियाणा के रहने वाले संजय यादव को तेजस्वी का दाहिनी हाथ माना जाता है, संजय और तेजस्वी की मुलाकात 2010 में हुई थी, तब तेजस्वी आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स टीम में थे।

संजय ने बनाई चुनावी रणनीति
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस बार विधानसभा चुनाव में राजद के लिये चुनावी रणनीति तैयार करने में संजय यादव की बड़ी भूमिका रही, एनडीए के जंगलराज के नारे की काट के तौर पर संजय ने बेरोजगारी की समस्या को पेश किया, बेरोजगारी, कोरोना जैसे चुनावी मुद्दों पर महागठबंधन का चुनावी कैम्पेन तय करने में संजय की बड़ी भूमिका रही।

नीतीश पर ध्यान केन्द्रित
इसके अलावा विधानसभा चुनाव को पीएम मोदी के बजाय सीएम नीतीश कुमार पर केन्द्रित रखने के पीछे भी संजय यादव का ही दिमाग था, राजद के बिहारी अस्मिता तथा युवाओं को 10 लाख नौकरी देने जैसे वादों ने भी लोगों का खूब ध्यान खींचा।

आईटी कंपनी की नौकरी छोड़ राजद से जुड़े
तेजस्वी के 37 वर्षीय राजनीतिक सलाहकार संजय यादव हरियाणा के महेन्द्रगढ डिले के नांगल सिरोही गांव के रहने वाले हैं, संजय ने दिल्ली से एमएससी और एमबीए की पढाई की है, वो एक आईटी कंपनी में नौकरी करते थे, तेजस्वी से मुलाकात के बाद नौकरी छोड़कर राजद ज्वाइन की थी, 2015 विधानसभा चुनाव में भी वो पार्टी के लिये सोशल मीडिया कैम्पेन संभालते थे, इस बार चुनाव में संजय ने प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान केन्द्रित करते हुए राजद की चुनावी रणनीति बनाई, कोरोना काल में संजय यादव तेजस्वी के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव की रणनीति तैयार कर रहे थे।