चाणक्य नीति: शादी हो या व्यापार या समाज, ये 5 गुणों वाले लोग कही पर भी धोखा नही खाते है

0
3




ऐसे तो हर कोई अपने आपको बड़ा ही होशियार और तेज किस्म का इंसान समझता है और इस बात को लोग मानते भी है कि हाँ वाकई में कही न कही मैं वो सब कुछ जानता और समझता तो हूँ जो शायद अधिकतर लोग नही समझते है. खैर इसके पीछे न कुछ एक गुण होते है जो काम करते है और उन पर ध्यान दिया जाना जरूरी माना गया है और अगर आप उन पर ध्यान नही देते है तो फिर इसका अर्थ नही रह जाता है.

चलिए फिर जानते है उन गुणों के बारे में जो कहा जाता है कि अगर किसी व्यक्ति के अन्दर पाए जाते है तो इसका मलतब ये तय तौर पर मान सकते है कि वो व्यक्ति कही पर भी चाहे शादी का मामला हो, नौकरी का मामला हो या फिर व्यापार का मामला हो कही पर भी धोखा नही खाता है.

  1. ऐसा व्यक्ति जो अपनी कमजोरी के बारे में जानता तो है लेकिन कभी भी उसे सामने वाले के सामने उजागर नही होने देता है, कभी भी सामने वाले को पता नही चल पाता कि उसकी कमजोरी क्या है.
  2. वो व्यक्ति जो ज्ञान का सागर होता है. जो कई क्षेत्रो के बारे में अलग अलग तरह का ज्ञान रखता है और जिसके पास में कई चीजो से सम्बंधित विभिन्न जानकारियां होती है  और वो उन अपर सोचने समझने की क्षमता रखता हो.
  3. ऐसा व्यक्ति जो कही पर भी खुद पर नियंत्रण कर सकता हो. चाहे लाभ हो हानि हो क्रोध हो या फिर प्रेम हो ये सारी की सारी भावनाएं व्यक्ति के पूर्ण नियंत्रण में हो.
  4. जो व्यक्ति खुद मन से सच्चा नही होता है वो दुसरे का झूठ कभी नही पकड़ सकता है इसलिए आपका भी मन से सच्चा होना जरूरी होता है और अगर आपके अन्दर ये गुण होते है तो आपको कोई भी कभी भी धोखा देकर के कोई कार्य नही करवा  सकता है.