धनतेरस से पहले बढ़ी सोने, चांदी की चमक, सुस्त पड़ी डॉलर की चाल

0
3

सोने-चांदी की खरीदारी का त्योहार धनतेरस से पहले महंगी धातुओं के दाम में लगातार तेजी का रुख बना हुआ है। वैश्विक बाजार से मिले मजबूत संकेतों से भारतीय वायदा बाजार में सोमवार को सोने और चांदी में तेजी का सिलसिला जारी था। अमेरिका में नये राष्ट्रपति चुने जाने के बाद डॉलर की चाल सुस्त पड़ गई है जिससे सोने और चांदी की चमक बढ़ गई है।

देश के सबसे बड़े वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर सुबह 10.08 बजे सोने के दिसंबर एक्सपायरी अनुबंध में बीते सत्र से 273 रुपये यानी 0.52 फीसदी की तेजी के साथ 52,440 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले सोने का भाव 52,520 रुपये तक उछला। वहीं, एमसीएक्स पर चांदी के दिसंबर अनुबंध में बीते सत्र से 915 रुपये यानी 1.40 फीसदी की तेजी के साथ 66,250 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले चांदी का भाव 66,390 रुपये तक उछला।

बाजार के जानकार बताते हैं कि अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडन के नए राष्ट्पति चुने जाने से कोरोना महामारी से मिल रही आर्थिक चुनौतियों से निपटने के लिए बडे राहत पैकेज की उम्मीद बढ़ गई है। इसलिए, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोने और चांदी में तेजी देखी जा रही है।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर सोने के दिसंबर अनुबंध में सोमवार को बीते सत्र से 12.90 डॉलर यानी 0.66 फीसदी की तेजी के साथ 1,964.60 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 1,965.65 डॉलर प्रति औंस तक उछला।

कॉमेक्स पर चांदी के दिसंबर अनुबंध में बीते सत्र से 1.22 फीसदी की तेजी के साथ 25.97 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले चांदी का भाव 26.13 डॉलर प्रति औंस तक उछला।

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि डॉलर की कमजोरी के चलते सोना में तेजी आई है। उन्होंने कहा कि अमेरिका में जो बाइडन के राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने के बाद कोरोनावायरस से निपटने के लिए बड़े राहत पैकेज मिलने की उम्मीद बढ़ गई है। जाहिर है कि राहत पैकेज से बढ़ने वाली महंगाई से बचाव के लिए सोना निवेशकों के लिए एक पसंदीदा इन्वेस्टमेंट इंस्ट्रूमेंट है।

केडिया बताते हैं कि चीन समेत दुनिया के अन्य देशों में भी कोरोना से निपटने के लिए राहत पैकेज की बात चल रही है। ऐसे में सोने के प्रति निवेशकों का रुझान बना रहेगा।

भारत और चीन में सोने की खपत में वृद्धि होने से पीली धातु का भाव प्रीमियम पर चल रहा है।

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट (एनर्जी व करेंसी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने चीन गोल्ड एसोसिएशन के आंकड़ों का जिक्र करते हुए बताया कि चीन में जुलाई से सितंबर के दौरान सोने की खपत 224.8 टन रही है जो कि बीती तिमाही के मुकाबले 28.71 फीसदी अधिक है जबकि सोने की छड़ व सिक्कों की खपत बीती तिमाही के मुकाबले 66.73 फीसदी बढ़कर 65.54 टन हो गई है।

गुप्ता ने भी बताया कि डॉलर में आई कमजोरी से सोने और चांदी की तेजी को लगातार सपोर्ट मिल रहा है।

दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स में बीते एक सप्ताह से कमजोरी बनी हुई है। बीते सोमवार को डॉलर इंडेक्स 94.14 पर बंद हुआ था जहां से टूटकर डॉलर इंडेक्स 92.19 पर आ गया है।

धनतेरस इस सप्ताह 13 नवंबर को है। भारत में लोग सोने और चांदी की सबसे ज्यादा एक दिनी खरीदारी धनतेरस के शुभ मुहूर्त में करते हैं, इसलिए दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद समेत देश के प्रमुख सर्राफा बाजारों में आभूषण कारोबारियों ने धनतेरस पर ग्राहकों को लुभाने के लिए आकर्षक स्कीम व उपहार रखे हैं। आभूषण कारोबारियों को धनतेरस पर जोरदार बिक्री की उम्मीद है।