भारत की बेटी बनेगी US की पहली अश्वेत उप राष्ट्रपति, जानिए किसने दी बधाई

0
9

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने शनिवार को रिपब्लिकन पार्टी के अपने प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप को कड़े मुकाबले में हरा दिया. प्रमुख अमेरिकी मीडिया संगठनों की रिपोर्टों में यह जानकारी दी गई है. सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार पेन्सिलवेनिया राज्य में जीत दर्ज करने के बाद 77 वर्षीय पूर्व उपराष्ट्रपति बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति होंगे.

इस राज्य में जीत के बाद बाइडेन को 270 से अधिक ‘इलेक्टोरल कॉलेज वोट’ मिल गये जो जीत के लिए जरूरी थे. पेन्सिलवेनिया के 20 इलेक्टोरल वोटों के साथ बाइडेन के पास अब कुल 273 इलेक्टोरल वोट हो गये हैं. इसी के साथ ही भारतीय मूल की कमला हैरिस दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोकतंत्र में उप राष्ट्रपति बनने जा रही हैं. इसे लेकर भारत में भी उत्साह है. कमला हैरिस की मां श्यामला गोपालन तमिलनाडु की रहने वाली थीं.

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि भारत सरकार को कमला हैरिस के भव्य और शानदार स्वागत की तैयारी करनी चाहिए. भारतीय मूल की होने के नाते हमें इस बात का गर्व है कि भारत की बेटी अमेरिका की उप राष्ट्रपति बनने जा रही है और भविष्य में वह अमेरिका की राष्ट्रपति भी बन सकती हैं.

इसके पहले डेमोक्रेटिक उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार 77 वर्षीय जोसेफ आर बाइडेन ने डोनाल्ड ट्रंप को हराकर अमेरिका में एक महान राजनीतिक पलटवार किया. ट्रंप को हराकर बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन गए हैं. लगभग 160 साल पहले इस समय के आसपास अब्राहम लिंकन अमेरिकी राष्ट्रपति चुने गए थे. हालांकि, व्हाइट हाउस के अंदरूनी सूत्रों ने यह संकेत दिया है कि ट्रम्प की कोई भी योजना नहीं है, जब तक कि हर आखिरी लड़ाई खत्म न हो जाए. पांच राज्यों के अंतिम परिणामों के रिजल्ट घोषित होना अभी बाकी है.

बाइडेन मुख्यालय ने कहा, मैं सभी को शांती बनाए रखने के लिए कहता हूं. प्रक्रिया काम कर रही है। बाइडेन ने बार-बार कहा है कि यह मतदाताओं की इच्छा है. कोई और नहीं, जो संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति का चयन करता है. डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन ने रिपब्लिकन के डोनाल्ड ट्रंप को करारी शिकस्त देकर व्हाइट हाउस तक का सफर अब मुकाम पर पहुंचने वाला है.

संबंधित लेख