ड्रग्स कि पोल खुल जाने के बाद बौखलाया बॉलीवुड, कोर्ट में मीडिया चैनल्स के खिलाफ की याचिका दायर

0
0

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद नेपोटिज्म से सुशांत केस से जुड़े ड्रग्स एंगल में बॉलीवुड के कई चेहरे बेनकाब हुए हैं। मामले की जांच देश की शीर्ष जांच एजेंसियां कर रही हैं। ड्रग एंगल में अभी तक एनसीबी कई बड़ी अभिनेत्रियों से पूछताछ कर चुकी है। वही कहीं अभिनेताओं के नाम ड्रग्स केस से जोड़े जा रहे हैं। अपनी पोल खुलते हुए देख बॉलीवुड के बड़े अभिनेता और निर्माता बौखला गए हैं।

खुद को बचाने की कोशिश में अब बॉलीवुड के यह सुपरस्टार मीडिया चैनल पर पलटवार कर रहे हैं। बता दे कि, बॉलीवुड के 34 फिल्म निर्माताओं ने सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। इसमें मांग की गई है कि समाचार चैनल रिपब्लिक टीवी और टाइम्स नाउ को बॉलीवुड के प्रति कथित गैर जिम्मेदाराना और अपमानजनक टिप्पणियां करने से रोका जाए। साथ ही बॉलीवुड से जुड़े स्टार्स का मीडिया ट्रायल भी रोकने की मांग की गई है। बता दे कि जब से ड्रग्स एंगल सामने आया था तब से ही रिपब्लिक मीडिया और टाइम्स नाउ लगातार बॉलीवुड के इन सितारों की सच्चाई जनता को दिखा रहे थे।

याचिका दायर करने वालों में बॉलीवुड के तीनों खान शामिल

डीएसके लीगल फर्म की ओर से दायर याचिका में सुपर स्टार शाहरुख खान, सलमान खान, आमिर खान, करण जौहर और रोहित शेट्टी सहित 34 फिल्म निर्माताओं और प्रोडक्शन हाउस शामिल है। इनके साथ ही द प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया, द सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन, द फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स काउंसिल और स्क्रीन राइटर्स एसोसिएशन भी शामिल है। याचिका में बॉलीवुड से जुड़े व्यक्तियों की गोपनीयता के अधिकार के साथ हस्तक्षेप करने से रोकने की भी मांग की है। याचिका के अनुसार बॉलीवुड से जुड़े लोगों की प्राइवेसी और उनके राइट्स का ध्यान रखा जाना चाहिए। 

ड्रग्स का भंडाफोड़ होने पर मीडिया पर गुस्सा

 पिछले दिनों मीडिया चैनल ने सभी बॉलीवुड सितारों की ड्रग्स से जुड़ी सच्चाई अपने चैनल पर दिखाई थी। हालांकि अब अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने के लिए बॉलीवुड उन्हीं पत्रकारों पर निशाना साध रहा है। याचिका के अनुसार, यह कदम इसलिए उठाया गया है, क्योंकि इन समाचार चैनलों ने इस तरह की बातें कही कि बॉलीवुड में फैली गंदगी को साफ करने की जरूरत है। यह देश का सबसे गंदा उद्योग है। एलएसडी और कोकीन बॉलीवुड में भरा हुआ है। यहां तक कि पत्रकारों ने यह भी कहा था कि कोई भी इत्र बॉलीवुड की इस गंदगी की बदबू को मिटा नहीं सकता। इन्हीं बातों पर बॉलीवुड के सितारे अपना गुस्सा दिखा रहे हैं।

अपमानजनक टिप्पणियों पर रोक की मांग

याचिकाकर्ताओं ने रिपब्लिक टीवी, इसके एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी, रिपोर्टर प्रदीप भंडारी, टाइम्स नाउ, इसके एडिटर इन चीफ राहुल शिवशंकर, ग्रुप एडिटर नविका कुमार और अज्ञात प्रतिवादियों के खिलाफ टिप्पणियां करने से रोकने की मांग की। याचिका में कहा गया कि समाचार चैनलों के साथ ही विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉम्र्स पर भी बॉलीवुड के खिलाफ की जा रही अपमानजनक और आधारहीन टिप्पणियों पर रोक लगाई जाना चाहिए। आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर बॉलीवुड स्टार्स की सच्चाई से जुड़े बहुत से वीडियोज वायरल हो रहे थे। 

इन्होंने कि है याचिका दायर

याचिका दाखिल करने वाले प्रोडक्शन हाउस में यशराज फिल्म्स, धर्मा प्रोडक्शंस, आमिर खान प्रोडक्शंस, सलमान खान वेंचर्स, रोहित शेट्टी पिक्चर्स, सोहेल खान प्रोडक्शंस, रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, रिलायंस बिग एंटरटेनमेंट, राकेश ओमप्रकाश मेहरा पिक्चर्स, नाडियाडवाला ग्रैंडसन एंटरटेनमेंट, कबीर खान फिल्म्स, अजय देवगन फिल्म्स, केप ऑफ गुड होप फिल्म्स, अरबाज खान प्रोडक्शंस, आशुतोष गोवारिकर प्रोडक्शंस, अनिल कपूर फिल्म एंड कम्युनिकेशन नेटवर्क, एक्सेल एंटरटेनमेंट, विनोद चोपड़ा फिल्म्स, विशाल भारद्वाज फिल्म्स, रॉय-कपूर प्रोडक्शंस, एड-लैब्स फिल्म्स, आंदोलन फिल्म्स, बीएसके नेटवर्क एंड एंटरटेनमेंट, क्लीन स्लेट फिल्म्स, एमी एंटरटेनमेंट एंड मोशन पिक्चर्स, फिल्म-क्राफ्ट प्रोडक्शंस, होप प्रोडक्शंस, लव फिल्म्स, मैकगुफिन पिक्चर्स, वन इंडिया स्टोरीज, आरएस एंटरटेनमेंट, रियल लाइफ प्रोडक्शंस, सिखया एंटरटेनमेंट और टाइगर बेबी डिजिटल शामिल हैं।