फ्रांस के बाद अब इस देश ने की मुस्लिमों पर कड़ी कार्रवाई, मस्जिदों को किया गया बंद

0
16

नई दिल्‍ली: फ्रांस में कार्टून विवाद के बाद कई इलाकों में आतंकी हमला हुआ है। आपको बता दें इसके साथ ही ऑस्ट्रिया और इंग्लैंड में भी आतंकी हमला हुआ। आतंकी हमलों के बाद फ्रांस ने कट्टर मुस्लिमों के खिलाफ कड़ी कर्रवाई की थी। इसके साथ ही कई मस्जिदों को बैन कर दिया।

आपको बता दें अब ऑस्ट्रिया की सरकार ने भी आईएसआईएस के आतंकवादी हमले के बाद कड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने कई मस्जिदों को बंद कर दिया है। इन मस्जिदों में आतंकवादियों का बार-बार आना जाना था। वियना में भीषण आतंकवादी हमला हुआ था। इस हमले में चार लोगों की मौत हुई थी और कई घायल हो गए थे। आपकी जानकारी के लिए  दूँ आतंकी हमले को 20 साल के कुजतिम फेजुजलाई नाम के आतंकी ने अंजाम दिया था। इस आतंकी को पुलिस ने मार गिराया था।

मस्जिदों को तुरंत किया गया  बंद

रिपोर्ट के मुताबिक, ऑस्ट्रिया की सरकार ने वियना में दो मस्‍जिदों को तुरंत बंद कर दिया है। आशंका है कि इन संस्थानों ने फेजुजलाई को कट्टरपंथी बनाने का काम किया था। यह मस्जिदें ओटकिंग जिले में स्थित है।

जांच में पाया गया कि आतंकवादी इन दोनों स्थानों पर अक्सर जाते आते थे। देश के गृह मंत्री कार्ल नेहमर का कहना है कि हम एक हिंसक अपराधी के साथ डील कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह राजनीतिक रूप से इस्लाम में सहानुभूति रखने वालों के नेटवर्क का हिस्सा था।

राष्ट्रीय कानून के नियमों को तोड़ने के बाद हुई कार्रवाई

आपको बता दूँ ऑस्ट्रिया के इस्लामिक धार्मिक समुदाय ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों के साथ चर्चा के बाद वे एक आधिकारिक मान्यता प्राप्त मस्जिद को बंद कर दिया है। संगठन ने बयान में कहा है कि इन मस्जिदों ने धार्मिक सिद्धांत और संविधान के नियम तोड़ने का काम किया है जिसके कारण इसे बंद किया गया है। मस्जिद ने इस्लामी कानूनों को संचालित करने वाले राष्ट्रीय कानून के नियमों को भी तोड़ा था।

ऑस्ट्रिया के आंतरिक मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि अगर किसी और मस्जिद को भी कट्टरपंथी इस्लामवादियों से संबंध रखने का दोषी पाया जाता है तो सरकार उसको भी बंद कर देगी। आपको बता दूँ मंत्रालय ने कहा कि ऑस्ट्रियाई सरकार मस्जिदों को बंद करेगी, क्‍योंकि यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है।