घर में सैकड़ो नौकर मौजूद फिर भी खुद अपने घर की सफाई करते है अम्बानी परिवार के बच्चे, जानिये क्यों

0
2




मुकेश अम्बानी और उनका परिवार अपने आप में एक बहुत ही बड़ी मिसाल है जिसकी लोग तारीफ़ करते हुए भी नही थकते है क्योंकि ये परिवार न सिर्फ अपने आप में सबसे अमीर है बल्कि साथ ही साथ में इस परिवार ने धीरू भाई अम्बानी से जो मेहनत संस्कार और अनुशासन मिला उसे भी अच्छे से सहेजकर के रखा है और इस कारण से कई बाते ऐसी देखने में आती है जो कई लोग शायद उम्मीद भी नही करते होंगे. इस वजह से ही उन्होंने अपने बच्चो की परवरिश कुछ इसी तरह से की है.

अगर हम लोग अभी की बात करे तो उनके परिवार के लोग जो कोई भी है वो और ख़ास  तौर पर उनके बच्चे घर के कई काम है जो उनको खुद करने चाहिए वो खुद ही करते है और ये बात बहुत से लोगो को शायद समझ भी न आये कि ऐसा क्यों लेकिन इसके पीछे का भी कारण है.

नीता अम्बानी का मानना है कि बच्चो को डाउन टू अर्थ होना जरूरी है. इसके लिए उनको बचपन में पॉकेटमनी भी कम ही दी जाती थी और जो काम सामान्य है वो खुद ही कर लेते है हर चीज में नौकर की जरूरत नही है. इससे वो खुद पर निर्भर हो पाना सीख पाते है. अब आप करोना का टाइम ही देख लीजिये, इसमें अपने सारे  काम नौकर से करवा पाना सही नही होता है तो कुछ चीजे खुद ही करना आना काफी ज्यादा जरूरी है.

ये बात आप भी बहुत ही अधिक बेहतर तरीके से समझ पा रहे होंगे कि आखिर ये सब कुछ क्यों किया जाता है और अगर अम्बानी परिवार से सीख लेकर के बाकी परिवार के लोग भी यही ही करे तो फिर कही न कही ये अच्छा ही होगा और इस बात में कोई भी शक नही है मगर अच्छी बाते फोलो कम ही लोग करते है.