रामविलास पासवान की राजकुमारी की कहानी, 13-14 साल की उम्र में हो गया था बाल विवाह

0
781

रामविलास पासवान बिहार की राजनीति के एक दिग्गज नेता थे। रामविलास पासवान के निधन के साथ ही बिहार की राजनीति के एक युग का अंत हो गया है। हाल फिलहाल के दिनों में रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी का नाम काफी चर्चाओं में है।

रामविलास पासवान की पहली पत्नी पिछले 40 सालों से बिहार के खगड़िया के अलौली गांव में अकेले रहती हैं। वह बीते 40 सालों से रामविलास पासवान से मिलने का इंतजार कर रही थी, जिसकी उम्मीद साल दर साल कम होती जा रही थी और बीते गुरुवार को यह उम्मीद पूरी तरह से खत्म हो गई।

Social Media

रामविलास पासवान की पत्नी ने बताया कि साल 2015 में उन्होंने पासवान को आखिरी बार देखा था। उस दौरान वह अपने पिता की बरसी पर गांव आए थे। तब उनका आमना-सामना हुआ था। हालांकि उस दौरान भी दोनों की कोई बातचीत नहीं हुई थी, लेकिन राजकुमारी देवी ने रामविलास पासवान के पांव छुए थे और उन्हें यही आखरी मुलाकात के पल आज याद है।

bihar-elections-2020-ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-relation-with-chirag-paswan
Social Media

वह हमेशा इन पलों को याद करती है। रामविलास पासवान की मौत की खबर सुनने के बाद उन्हें यही पल याद है और वह इन्हीं पलों को याद करते करते बार-बार रो रो कर बेहोश हो रही हैं। इतना ही नहीं वह जब भी होश में आती है फिर इन्ही पलों को दोहरा रही हैं।

ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-story-to-live-in-khagadiya-paternal-home
Social Media

राजकुमारी देवी की शादी रामविलास पासवान से 13 साल की उम्र में हुई थी। उस समय पासवान 14 साल के थे। शादी के बाद कई सालों तक दोनों गांव में ही रहे फिर पटना चले गए। साल 1967 में रामविलास पासवान पहली बार एमएलए बने। रामविलास पासवान के साथ वह पटना के ब्लॉक स्थित फ्लैट में रहने लगी। फिर रामविलास पासवान एमपी बन गए।

ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-story-to-live-in-khagadiya-paternal-home
Social Media

साल तक सब कुछ ठीक रहा, लेकिन धीरे-धीरे सब बदलने लगा उनकी बेटी आशा पासवान ने उस समय के बातों का जिक्र करते हुए बताया की याद नहीं पापा हम से कब अलग हुए, लेकिन मैं शायद उस वक्त मैं 7 साल की थी। बीते 40 सालों से अकेले जीवन जी रही रामविलास पासवान की पहली पत्नी ने कभी भी रामविलास पासवान के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया। मीडिया में कई बार उनसे सवाल किए गए, लेकिन हमेशा वह चुप ही रही।

ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-story-to-live-in-khagadiya-paternal-home
Social Media

ऐसा नहीं था कि वह रामविलास पासवान से नाराज नहीं थी, बल्कि उन्होंने रामविलास पासवान की खुशी को ही अपनी खुशी मान लिया था। हालांकि को यह बात हमेशा कहती थी कि राजनीति ने उन्हें रामविलास पासवान से अलग किया है। उन्हें अपने काम से बहुत प्यार है। राजकुमारी देवी अक्सर कहती हैं कि किसी सरकारी नौकरी पर होते तो उन्हें लोग इतना नहीं पहचानते। उन्हें देश और विदेशों के लोग नहीं जानते।

ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-story-to-live-in-khagadiya-paternal-home
Social Media

गौरतलब है कि रामविलास पासवान लंबे समय से बीमार थे। यह जानने पर राजकुमारी देवी को उनकी चिंता अक्सर होती है, लेकिन कभी उनके पास जाने की जिद नहीं की। राजकुमारी देवी आज भी अपने पैतृक आवास में अकेले रहती हैं। बीमार होने पर पटना तो आती है लेकिन कभी 2 महीने से ज्यादा बेटी और दामाद के पास नहीं रूकी।

bihar-elections-2020-ram-vilas-paswan-first-wife-rajkumari-devi-relation-with-chirag-paswan
Social Media

राजकुमारी देवी का कहना है कि बेटी दामाद के घर कितने दिन रहूंगी, यहां रहूंगी तो मेरा घर कौन देखेगा…मैं उस घर में बैलगाड़ी पर आई थी और अपने अंतिम समय तक उसी घर में रहूंगी।