पाकिस्तान से 28 साल बाद वापिस वतन लौटे शमसुद्दीन, बेहद दर्द भरी है इन सालों की दास्तान!

0
13

पाकिस्तान की जेल से 28 सालों बाद रिहा होकर कानपुर के कंघी मोहाल के निवासी शमसुद्दीन भारत लौट आए है। उनके साथ चार अन्य कैदी भी भारत वापस आए है। दरअसल साल 1992 में शमसुद्दीन अपने परिवार से लड़कर अच्छी जिंदगी जीने के सपने लिए भारत को छोड़कर पड़ोसी देश पाकिस्तान गए थे, लेकिन पाकिस्तान में जो कुछ उनके साथ हुआ वह किसी डरावने सपने से कम नहीं है।

शमसुद्दीन को पाकिस्तान में बिताई इन 28 सालों की जिंदगी का जरा भी इल्म होता, तो वह अपना वतन छोड़कर कभी पाकिस्तान नहीं जाते।

national-news-shamsuddin-returned-to-his-homeland-from-pakistan-after-being-released-from-jail
Social Media

शमसुद्दीन के इन 28 सालों की दर्द भरी पूरी दास्तान कानपुर के रहने वाले उनके करीबी फहीमुद्दीन ने बयां की है। फहीमुद्दीन ने बताया कि बीते 28 सालों में शमसुद्दीन को पाकिस्तान में एक कैदी की जिंदगी जीने पड़ी। जब यहां से गए तो उन्हें पाकिस्तान की नागरिकता तो मिल गई थी, लेकिन बतौर नागरिक वो पाकिस्तान में कभी नहीं रह पाए। बीते 28 सालों की जिंदगी उन्होंने पाकिस्तान की जेल में बिताई है।

फहीमुद्दीन ने बताया कि शमसुद्दीन जब पाकिस्तान गए तब उनकी बीवी और उनके बच्चे भी उनके साथ थे। परेशानी के दिन उसी दिन शुरू हो गए जब उन्होंने पाकिस्तान की जमीन पर कदम रखा। उन्हें जेल में डाल दिया गया तो परेशान होकर उनकी पत्नी अपनी बेटियों को लेकर कानपुर वापस लौट आई। इस बीच दोनों का तलाक हो गया।

national-news-shamsuddin-returned-to-his-homeland-from-pakistan-after-being-released-from-jail
Social Media

फहीमुद्दीन ने बताया कि साल 1992 में शमसुद्दीन अपने परिवार से लड़कर पाकिस्तान गए थे। उस समय शमसुद्दीन कानपुर में जूते के अपर बनाकर अपने और परिवार का गुजारा बसर किया करते थे। अच्छी जिंदगी की आस में वो पाकिस्तान गए, लेकिन पाकिस्तान में बिताई 28 सालों की जिंदगी में उन्हें सिर्फ जेल की यात्राओं के और कुछ नहीं मिला।

national-news-shamsuddin-returned-to-his-homeland-from-pakistan-after-being-released-from-jail
Social Media

वही भारत लौटने के बाद उनकी पत्नी भी दोनों बच्चों को लेकर कहीं चली गई। आज ना उनके परिवार का पता है ना उनकी बीवी और बच्चों का…28 सालों बाद शमसुद्दीन भारत चो लौट आए हैं लेकिन उनकी जिंदगी इन 28 सालों में पूरी तरह बिखर गई है। असल मायने में पाकिस्तान में बिताए गए उनके दिनों की पूरी दास्तान उनकी पत्नी ही बयां कर सकती है, जो मौजूदा समय में लापता है।