फ्रांस हमले पर बयान को लेकर कायम है शायर मुनव्वर राना, बोले “कातिल लड़का आतंकवादी नहीं था”

0
22

फ्रांस हमले को लेकर विवादित बयान देने के आरोप में उत्तर प्रदेश पुलिस ने मशहूर शायर मुनव्वर राणा के खिलाफ FIR दर्ज की. इसके चलते उनपर धारा 153A (धार्मिक वैमनस्य फैलाना), 295 (जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को आहत करना), 298 (धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली भाषा या भाषण देना), 505 (1-b) समाज में उन्माद फैलाना और आईटी एक्ट की धारा 67, 68 के तहत FIR दर्ज हुई.

मुनव्वर राणा ने कहा कि अगर कोई माता-पिता या भगवान् का गन्दा कार्टून बनाता तो वह भी उसकी हत्या कर देते.

बता दें, मुनव्वर राणा ने कहा कि मैंने अध्यापक कि हत्या को लेकर कोई समर्थन नहीं किया और जिसने कार्टून बनाया उसने गलत किया, जिसने हत्या कि उसने गलत किया, लेकिन इस तरह कि तस्वीरें या कार्टून नहीं बनाना चाहिए कि कोई भी आदमी गुस्से में आ सकता है और एक धर्म के नाम पर देखा जाए तो गौरक्षा की आड़ में एक आदमी को इतने लोग मिलकर मार देते हैं. उनको ना तो कोई सज़ा मिली और न ही फांसी उसका हिसाब तो देना ही चाहिए.

मुनव्वर राणा ने बताया कि मुझ पर आज आरोप लगाने वाले जो बयान दे रहे हैं, वह अपना बचाव करें. उन्होंने कहा कि वह अपने बयान पर अब भी कायम हैं.

इसके लिए उन्होंने उदाहरण दिया कि अगर 15 साल का बच्चा अपने घर आता है और उसके सामने उसकी बहन या माँ के साथ कुछ गलत हो रहा होता तो वह गलत करने वाले को सजा दे सकता है और उस सजा में शायद वह उसे मार डाले और बाद में सरकार उसे सजा दें तो क्या फर्क पड़ता है. उन्होंने कहा कि वह किसी कि तरफदारी नहीं कर रहे हैं लेकिन दुनिया में ज़्यादातर मौत इसी जूनून कि वजह से होती.

यहां तक की उन्होंने कहा कि वह लड़का आतंकवादी नहीं है. जहां यह जुर्म हुआ, वहां सिर्फ एक अध्यापक और एक छात्र था. ना ही कोई बन्दूक थी और न ही कोई गोली चली. मैं आतंकवाद को सपोर्ट नहीं करता हूं.

IMAGE SOURCE: AMARUJALA

दरअसल फ्रांस में हुए आतंकी हमले को लेकर मुनव्वर राणा ने बयान दिया था कि हज़ारों सालों से इज़्ज़त की इस लड़ाई में ऑनर किलिंग की जा रही है. ऐसे में दूसरे मजहब का कुछ भी कर जाना गलत है.

हालांकि, उन्होंने कहा किसी की जान लेना ठीक नहीं गॉड का कार्टून बनाना है बनाइए, लेकिन वें मुसलमानों को सिर्फ चिढ़ाने के लिए पैगम्बर मोहम्मद का कार्टून बनाते है, किसी भी धर्म के देवी देवताओं का अगर कार्टून बनाया जाता है तो मुझे भी बुरा लगेगा. क्यूंकि, मैं भी हिंदुस्तानी हूं और इंसान हूं.

मुनव्वर राणा आए दिन अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं और यही वजह है कि उनके खिलाफ धर्म जाति को लेकर नफरत फैलाने के आरोप लगे हैं. उनके खिलाफ धार्मिल भावनाओं को ठेस पहुंचाने और जनता के बीच भय का माहौल बनाने का आरोप लगा है और साथ ही सार्वजनिक शान्ति को भंग करने के लिए, झूठे बयान देने और सोशल मीडिया के जरिए आपत्तिजनक पोस्ट शेयर करने की धाराओं को लेकर केस दर्ज कराया गया है.

Interview Courtesy: ABP News