संबित पात्रा का बड़ा सवाल, कहा- मैं जामा मस्जिद में हनुमान चालीसा पढ़ लूं तो मेरी गर्दन बचेगी क्या?

0
7

उत्तर प्रदेश के मथुरा स्थित एक मंदिर में मुस्लिम चौक फैजल खान के नमाज पढ़ने का मुद्दा लगातार गर्म आता जा रहा है। राजनीतिक गलियारों से लेकर सोशल मीडिया तक अलग-अलग धर्म के लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर कर रहे हैं। हिंदू धर्म के लोग इस मामले पर खासा नाराज नजर आ रहे है। इस मामले पर अब बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि बिना अनुमति के मंदिर में नमाज पढ़ना गलत है। इसके साथ ही उन्होंने मुस्लिम समुदाय के लोगों से सवाल भी किया हैं।

sambit-patra-ask-to-maulana-qadri-about-reading-hanuman-chalisa-in-jama-masjid
Social Media

गौरतलब है कि एक हिंदी चैनल डिबेट के दौरान संबित पात्रा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या अगर मैं जामा मस्जिद में जाकर हनुमान चालीसा पढ़ लूं, तो तुम मेरी गर्दन बचेगी? इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पार्टी को कम्युनिस्ट और जिहादियों का कंबीनेशन बताया। उन्होंने कहा कि जब-जब देश में कहीं भी जाति और धर्म के नाम पर माहौल बिगड़ा है, तो उसमें कांग्रेस का हाथ जरूर सामने आया है।

इस दौरान संबित पात्रा ने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि कांग्रेस ने आजादी के बाद से लगातार तुष्टीकरण की राजनीति की है। कांग्रेस ने अपनी इस रणनीति के तहत देश में जिहादियों को आगे बढ़ाया है। कांग्रेस हमेशा से देश का माहौल खराब करने की कोशिश करती है।

sambit-patra-ask-to-maulana-qadri-about-reading-hanuman-chalisa-in-jama-masjid
Social Media

इस दौरान संबित पात्रा ने खास तौर पर इस्लाम धर्म के जानकार मौलाना कादरी से सवाल पूछा कि फैजल खान नंदगांव के नंदबाबा मंदिर में बिना अनुमति के नमाज पढ़ लेता है। ऐसे में अगर मौलाना साहब बताये कि मैं चांदनी चौक जाऊं और मंदिर जाने का समय ना हो और मैं जामा मस्जिद के अंदर जाकर हनुमान चालीसा या दुर्गा आरती करना शुरू कर दूं तो क्या मेरी गर्दन बचेगी? क्योंकि आजकल तो गर्दन काटने का फैशन चल पड़ा है, ऐसे में मेरी गर्दन कट जाएगी तो डिबेट कहां से करेंगे।

Social Media

इसके बाद संबित पात्रा ने बिना किसी का नाम लिए हुए निशाना साधते हुए कहा कि फैजल खान कोई आम व्यक्ति नहीं है, क्योंकि जब तक किसी बड़े संगठन का हाथ सर पर ना हो कोई भी आम इंसान ऐसा करने की हिम्मत नहीं दिखा सकता हैं। फिलहाल इस मामले की जांच पड़ताल जारी है। बता दे पुलिस ने बीते मंगलवार को गिरफ्तारी के बाद फैजल को छाता तहसील स्थित अतिरिक्त जुडिशल मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया था, जिसके बाद उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया हैं।