धर्मेंद्र ने ऐसा क्या कहा कि खुश हो गए थे सदाशिव अमरापुरकर?

0
3




बॉलीवुड के बहुत ही बड़े एक्टर सदाशिव अमरापुरकर जिन्होंने कई फिल्मो में विलन का रोले निभाया है वैसे आपको फिल्म ‘सड़क’ में एक हिजड़ा महारानी के किरदार तो याद होगा बता दे की इस फिल्म के लिए उन्हें सवश्रेष्ठ खलनायक का अवॉर्ड मिला था वैसे आपको ये भी बता दे की सदाशिव एक्टिंग के साथ साथ अपने दूसरे दो कामों के लिए ज्यादा फेमस थे।

बता दे की सदाशिव क्रिकेट बहुत अच्छे से खेलना आता था वह रणजी ट्राफी में भाग भी लिया चुके है वैसे बाद में उन्हें नाटकों में काम करने का मौका मिला जिसके बाद उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहा दिया था सदाशिव कई मराठी फिल्मों और नाटकों में काम करने लगे थे।

कई शो में काम करने के बाद गोविंद निहलानी ने उन्हें अर्धसत्य फिल्म में कास्ट किया इसके बाद ‘सड़क’ ने जैसे उनकी जिंदगी बदल दी और वे एक नामी खलनायक बन गए वैसे उस समय एक्टर धर्मेंद्र अपनी गिरते करियर को संवारने में लगे थे।धर्मेंद्र को लगता था सदाशिव उनका लकी चार्म थे और वो अपनी फिल्म के प्रोडूसर्स से कहते थे की उनकी हर फिल्म में सदाशिव को लिया जाए. वैसे हुआ यूं था कि धर्मेंद्र की एक फिल्म में सदाशिव ने काम नहीं किया था और फिल्म फ्लॉप हो गई।

जिसके बाद धर्मेंद्र जी ने सदाशिव को फोन करके कहा कि ‘भाई, मेरी फिल्म के लिए प्लीज टाइम निकाल लिया करो’. सदाशिव को धर्मेंद्र की बात दिल को लग गई और उसेक बाद सदाशिव जी ने धर्मेंद्र जी की फिल्म में काम करते समय कभी यह नहीं पूछा कि उनका रोल क्या है