अमेरिका में ट्रंप जीतें या बाइडेन, जानें-क्या हो सकता है भारतीय शेयर बाजार पर असर

0
25

अमेरिका में राष्ट्रपति के लिए चुनाव हो चुके हैं और अब कई राज्यों में मतगणना भी हो चुकी है. भारत सहित दुनियाभर के लोगों की नजरें इस चुनाव पर टिकी हैं. अमेरिकी चुनाव की वजह से शेयर बाजारों उतार-चढ़ाव का माहौल है.  जानते हैं कि ट्रंप या बिडेन के जीतने से भारतीय शेयर बाजार पर क्या असर पड़ सकता है?

एक्सिस एसेट मैनेजेमेंट की रिपोर्ट के अनुसार, इस चुनाव के नतीजे काफी करीबी टक्कर वाले हो सकते हैं. देखने वाली बात है कि रिपब्लिकन पार्टी की तरह से मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमाक्रेटिक पार्टी की तरफ से जो बिडेन उम्मीदवार हैं. मौजूदा रुझानों के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप के खाते में 92 इलेक्टोरेल वोट और जो बिडेन के खाते में 131 इलेक्टोरेल वोट जुड़ गए हैं.

क्या हो सकता है असर

विशेषज्ञों का मानना है कि बिडेन के जीतने से शेयर बाजारों पर थोड़े समय के लिए नेगेटिव असर रहेगा, क्योंकि इस बात की आशंका है कि अगर कोई नया राष्ट्रपति आएगा तो वह ज्यादा टैक्स लगाएगा.

जानकारों का कहना है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में कोई भी जीते निवेशकों को इस समय निवेश के प्रति सावधान रहना चाहिए और सिर्फ चुनाव नतीजों के आधार पर कोई भी निर्णय नहीं लेना चाहिए. वैसे लॉन्ग टर्म के लिहाज से यह देखा गया है कि अमेरिका में डेमाक्रेट पार्टी का उम्मीदवार जीते या रिपब्लिकन का निवेश पर ज्यादा असर नहीं पड़ता.

एक्सिस एसेट मैनेजेमेंट की रिपोर्ट में कहा गया हे, ‘चुनाव के अलावा कई और कारक शेयर बाजारों पर असर डाल सकते हैं, जैसे वैल्युएशन, ब्याज दरें, महंगाई आदि.’

अमेरिकी चुनावों का पहले क्या हुआ है असर

ऐतिहासिक रूप से देखें तो भारतीय शेयर बाजार पर ऐसी वैश्विक घटनाओं का तात्कालिक असर पड़ता है, लेकिन लॉन्ग टर्म पर बाजार का प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय घटनाओं से ज्यादा घरेलू अर्थव्यवस्था पर निर्भर करता है.

जानकारों का कहना है कि अमेरिकी चुनाव नतीजों से भारतीय शेयर बाजारों में तात्कालिक तौर पर उतार-चढ़ाव दिखेगा, इसलिए निवेशकों को 3 से 5 साल के निवेश लक्ष्य को रखकर निवेश करना चाहिए.

वेस्टेफ फाइनेंस के सीईओ विरम शाह के मुताबिक ट्रंप जीतें या बिडेन भारत से अमेरिका के रिश्तों में आगे सुधार ही होना है, क्योंकि दोनों देश चीन की बढ़ती ताकत से मुकाबले के लिए एक-दूसरे से संबंध बढ़ाना चाहते हैं.

किन-किन सेक्टरों पर हो सकता है असर

शाह बताते हैं, ‘बिडेन की जीत से नवीकरणीय उर्जा, शिक्षा जैसे सेक्टर पर अच्छा असर दिख सकता है, जबकि ट्रंप की जीत से तेल, डिफेंस जैसे सेक्टर का प्रदर्शन अच्छा रहेगा.’