2 Years Of ”Statue Of Unity” रोज 15 हज़ार से ज़्यादा टूरिस्ट पहुंचे, कितने साल में कितनी हुई कमाई? जानिए

0
4

गुजरात में सरदार सरोवर डैम के पास दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है. यह मूर्ति स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के नाम से जानी जाती है. इस मूर्ति को देखने दुनिया के कौन-कौन से लोग आ रहे हैं. इसका क्रेज़ दूसरे टूरिस्ट स्पॉट से ज़्यदा बाद गया है. इससे देखने आने वालों लोगों का आंकड़ा इस साल तो 15,000 से 20,000 पार कर चूका है.

कोरोना महामारी के चलते इस साल 8 महीने तक ‘स्टेचू ऑफ़ यूनिटी’ लोगों के देखने के लिए बंद था. देश अनलॉक होने के तुरंत बाद ही इसे दुबारा खोला गया. इसके खुलते ही 10 दिनों के अंदर-अंदर 10 हज़ार से भी ज़्यादा लोग यह पहुंचे.

मोदी जी ने 31 अक्टूबर 2018 को ‘स्टेचू ऑफ़ यूनिटी’ लांच किया था. 1 नवंबर 2018 से 17 मार्च 2020 तक देश- विदेश के 50 लाख से भी ज़्यादा लोग इसे देखने आए, जिससे करीब 150 करोड़ रुपयों की कमाई हुई.

IMAGE SOURCE: MINT
IMAGE SOURCE: LATESTNEWSHEADLINES

इतना ही नहीं गुजरात में बने इस ‘स्टेचू ऑफ़ यूनिटी’ को देखने की भीड़ में रोज़ाना बढ़ोतरी हो रही है. 31 अक्टूबर 2018 को लांच होने के बाद से ही यहां एक साल के भीतर 24 से 25 लाख लोग यहां पहुंचे. स्टेचू ऑफ़ यूनिटी की कमाई की बात करे, तो पहले साल में इसकी कमाई 63.69 करोड़ रूपए थी.

वहीं दूसरे स्टेचू की तुलना में स्टेचू ऑफ़ यूनिटी ने सबसे ज़्यादा कमाई की. इसके आस-पास और टूरिस्ट स्पॉट खोलने के नाम से ही यहां और भी ज़्यादा भीड़ देखने को मिल रही है.

दिवाली का तयौहार नज़दीक है. ऐसे में यहां भीड़ का आना भी स्वाभाविक हो गया है. अबतक 2 लाख से भी ज़्यादा लोग इस स्टेचू को देखने आ पहुंचे हैं और आपको बता दें, यह गिनती 2018 के मुक़ाबले दोगुनी है. दिवाली की छुट्टियों में रोज़ यहां 14 हज़ार लोग पहुंच रहे हैं. ऐसे में अब सी-प्लेन सर्विस भी शुरू की जा रही है.

आपको बता दें, इस सी प्लेन की एक तरफ की टिकट रूपए होगी. जिससे अनुमान लगाया जा रहा है. लगभग 50% का इजाफा हो सकता है.

IMAGE SOURCE: THEINDIANEXPRESS

ऑर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) के 2017-18 के आंकड़े:

स्मारक कमाई
ताजमहल 56.83 करोड़
आगरा फोर्ट 30.55 करोड़
कुतुबमीनार 23.46 करोड़

कैसे पहुंचें ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’? स्टेचू ऑफ़ यूनिटी तक पहुंचने के लिए नर्मदा से सबसे नज़दीक वडोदरा एयरपोर्ट है जो स्टेचू ऑफ़ यूनिटी से 90 किमी दूर पड़ता है. आपको आसानी से वह तक पहुंचने के लिए साधन मिल सकते हैं.