ABP News सर्वे- नीतीश का पलड़ा भारी, तेजस्वी यादव पा सकते हैं 98 सीटें!

0
62

एबीपी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार चुनाव में सबसे ज्यादा सीटें एनडीए को मिलेगी, नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सबसे आगे है।

New Delhi, Oct 25 : बिहार चुनाव में तमाम राजनीतिक दल जोर-शोर से जीत पाने के लिये पूरी कोशिश में जुटी हुई है, एनडीए से लेकर राजद-कांग्रेस गठबंधन तक तेजी से प्रचार अभियान में जुटे हैं, बड़ी संख्या में रैलियों के अलावा नेता घर-घर जाकर भी लोगों से वोट की अपील कर रहे है, इस बार बिहार में किसकी सरकार बनेगी, ये सवाल सभी पूछ रहे हैं, इस बीच एबीपी न्यूज- सी वोटर ओपिनियन पोल सामने आया है, इसके मुताबिक बिहार चुनाव में इस बार एनडीए सत्ता में वापसी कर सकती है, हालांकि तेजस्वी भी जादूई आंकड़े से ज्यादा पीछे नहीं हैं।

ओपिनियन पोल
एबीपी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार चुनाव में सबसे ज्यादा सीटें एनडीए को मिलेगी, नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सबसे आगे है, नीतीश को 135-139 सीट, राजद गठबंधन को 77-98 सीटें, तथा लोजपा को 1 से 5 सीटें मिल सकती है, वहीं अन्य के खाते में 4 से 8 सीटें जा सकती है, अगर वोट प्रतिशत की बात करें, तो एनडीए को 43 फीसदी, लालू गठबंधन को 35 फीसदी, चिराग पासवान को 4 फीसदी, तथा 18 फीसदी वोट अन्य दलों को मिलने की संभावना है।

सीमांचल का हाल
बिहार के सीमांचल में कुल 24 सीटें है, ओपिनियन पोल के मुताबिक यहां नीतीश गठबंधन को 11-15, लालू गठबंधन को 8 से 11, तथा अन्य के खाते में 1-1 सीट जा सकती है, वोट प्रतिशत के हिसाब से देखें, तो नीतीश गठबंधन को 28 फीसदी, लालू गठबंधन को 26 फीसदी, पासवान को 4 फीसदी, तथा अन्य को 22 फीसदी मिल सकते हैं।

मिथिलांचल का हाल
मिथिलांचल में 50 सीटें है, नीतीश गठबंधन को यहां 27-31 सीट, लालू गठबंधन को 18-21 सीट, पासवान की पार्टी को 1-3 सीट मिल सकती है, वहीं एक सीट अन्य के खाते में जा सकती है, वोट प्रतिशत के मुताबिक नीतीश को 41, लालू को 38, पासवान को 4 तथा अन्य़ को 17 फीसदी जाने की संभावना है।

अंग प्रदेश, मगध और उत्तर बिहार
अंग प्रदेश में नीतीश को 16-20, लालू को 6-10 सीटें मिलने की संभावना है, पासवान की लोजपा को 0-2 सीटें, एक सीट अन्य के खाते में जा सकती है। मगध में कुल 69 सीटें है, यहां नीतीश गठबंधन को 36-44 सीटें, लालू गठबंधन को 23-30 सीटें, अन्य के खाते में 2 से 3 सीटें जा सकती है, आंकड़ों के मुताबिक नीतीश गठबंधन को 44 फीसदी वोट, लालू को 33 फीसदी वोट मिलने की संभावना है। उत्तर बिहार में कुल 73 सीटें है, यहां नीतीश को 45-49, लालू को 22-26 तथा अन्य के खाते में 1-2 सीटें मिल सकती है।