स्कूल में शिक्षक न होने पर इस आईएएस ने पत्नी से दिलवाई मुफ्त शिक्षा, PMO से आया बुलावा

0
25




आईएएस एक ऐसा व्यक्ति होता है को देश के सच्चे सेवक में गिना जाता है। एक आईएएस अधिकारी बहुत ही समझदार और काबिल व्यक्ति होता है। इनके कंधों पर एक साथ बहुत सारी जिम्मेदारी होती है और ये बखूबी उसका निर्वाह भी करते हैं।

मंगेश घिल्डियाल का नाम भी एक काबिल और जिम्मेदार आईएएस अधिकारी के तौर पर लिया जाता है। बीते कई दिनों से यह नाम सुर्खियों में बना हुआ है। इनका भेष बदल कर निरीक्षण पर जाना ही मुख्य चर्चा का विषय बना। मंगेश घिल्डियाल रुद्रप्रयाग के डीएम रह चुके हैं। उस दौरान यह अपना भेष बदल कर निरीक्षण पर जाया करते थे। इसके इस कार्य से बाकी लोग हैरान रह जाते थे। भेष बदलने के कारण इन्होंने कई बड़े बड़े भ्र्ष्टाचार करने वालों के असल चेहरे सभी के सामने लाकर इनकी पोल खोली है।

मंगेश ने अपने जीवन में बहुत मान सम्मान कमाया है,साथ ही इन्हें लोगों का प्यार भी बड़े पैमाने पर मिला है। वही गलत लोगों इनके नाम से ही कांपने लगते हैं। मंगेश एक ऐसे आईएएस अधिकारी है जो अपने मानवीय गुणों के कारण भी बहुत सम्मान पाते हैं। किसी की भी मदद के लिए यह हमेशा बढ़ चढ़ कर आगे आते हैं। वहीं इनकी पत्नी भी लोगो की सहायता करने से पीछे नही रहती हैं। वह भी किसी की मदद करने का कोई भी अवसर नही छोड़ती हैं। इन दोनों पति पत्नी का यह निस्वार्थ सेवा भाव ही इन्हें खास और सबसे अलग बनाता है।

रुद्रप्रयाग में बतौर डीएम रहने की समय जब मंगेश निरीक्षण के राजकीय गर्ल्स इंटर कॉलेज पहुचे तो उन्हें यह सूचना मिली कि वहां विज्ञान का कोई भी टीचर नही है जिसके कारण बच्चों की पढ़ाई का नुकसान हो रहा है। मंगेश ने घर पहुंच कर अपनी पत्नी उषा से यह बात बताई साथ ही जब तक कोई शिक्षक नही आता तबतक अपनी पत्नी ऊषा को राजकीय गर्ल्स इंटर कॉलेज में साइंस पढ़ाने को कहा। उनकी पत्नी तत्काल ही यह बात मान कर अपने पति के फैसले में उनके साथ सहमत हो गईं। और उन्होंने यहां बिल्कुल मुफ्त साइंस पढ़ाया।

मंगेश आजतक जहाँ भी पोस्टेड रहे हैं उन्होंने अपने काम और अंदाज से सभी का दिल जीता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी मंगेश की तारीफ कर चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट केदारनाथ पुनर्निर्माण मंगेश ने ही पूरा करवाया था। तब से ही यह प्रधानमंत्री इनसे काफी प्रभावित हुए और इनकी तारीफ भी की। आज उत्तराखंड मंगेश पर गर्व करता है।

हाल में ही मंगेश को PMo में भी बुलाया गया है। और इन्हें PMO में सेकेट्री पद पर नियुक्ति मिली है। यह देश की सेवा में सच्चे मन से कार्यरत हैं।