इस भारतीय ने बेटी की शादी में खर्च किए थे 485 करोड़, अब हुए दिवालिया

0
4




कहा जाता है समय कभी एक सा नही रहता, जो आज राजा है कल रंक बन सकता है और जो रंक है वो भी एक दिन राजा बन सकता हैं। आज हम आपको भारत के एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं। कभी ये इतने अमीर थे कि इनहोंने अपनी बेटी की शादी में 485 करोड़ रुपये खर्च किये थे,पर आज यह दिवालिया ही चुके हैं।

आज हम आपको स्टील के राजा लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल के बारे में बताने जा रहे हैं। दरअसल इन्होंने अपनी बेटी की शादी 485 करोड़ रुपए खर्च किया होगा पर आज यह दिवालिया हो चुके हैं। अब प्रमोद मित्तल ब्रीटेन के सबसे बड़े दिवालिया घोषित कर दिए गए हैं।

प्रमोद ने स्वीकार किया है कि उन्होंने 254 करोड़ पाउंड का कर्ज ले रखा है। इन्होंने कहा कि अब यह अपनी पत्नी के खर्चों पर चल रही है। प्रमोद मित्तल 64 वर्ष के हैं और इसी साल लंदन की इंसोल्ववेंसी और कंपनीज कोर्ट की ओर से इन्हें दिवालिया घोषित कर दिया गया।

प्रमोद का कहना है कि उनपे लगभग 25 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है। इस राशि मे वो 17 करोड़ भी शामिल है जो कि प्रमोद ने अपने 94 के पिता से कर्ज के तौर पर लिया था। इस तरह उन्होंने अपने परिवार वालो से कर्ज ले रखा है। उन्होंने अपनी पत्नी संगीत से 11 लाख पाउंड का कर्ज लिया है। वही अपने बेटे दिव्येश से इन्होंने 24 लाख पाउंड का कर्ज ले रखा है। यहां तक कि उन्होंने अपने रिश्तेदार से भी 11 लाख पाउंड का कर्ज लिया है।

अब प्रमोद का कहना है कि उनके पास केवल 1 लाख 10 हजार पाउंड है। उन्होंने कहा उनके पास कुछ ऐसा नही है जिससे कर्ज की रकम चुका सकें। प्रमोद अपने कर्जदारों को मामूली हिस्सा देने के लिए राजी हैं उनको यकीन है कि इसी दीवालिया समस्या का कुछ उपाय निकल आएगा।

प्रमोद मित्तल ने वर्ष 2013 में अपनी बेटी सृष्टि की शादी की थी। इस शादी में प्रमोद ने अपनी बड़ी बेटी वनिशा की शादी से भी ज़्यादा खर्च किया । उन्होंने वनिशा की शादी से भी ज्यादा पैसा सृष्टि के शादी में खर्च किया। मित्तल ने अब स्वीकार किया है कि उनकी पत्नी उनका खर्च उठा रहीं हैं। उन्होंने कहा कि उन दोनों के बैंक खाते अलग है,इसलिए उन्हें आमदनी के बारे में ज्यादा कुछ पता नही रहता है।उन्होंने कहा कि उनकी दिवालिया प्रक्रिया का सारा कानूनी खर्च भी परिवार उठा रहा हैं।

प्रमोद ने कंपनी के कर्ज के लिए व्यक्तिगत गारंटी दी थी, साल 2006 में कम्पनी करीब 16.6 करोड़ डॉलर का कर्ज वापसी में विफल रही । तभी से इनके ऊपर कर्ज बढ़ता गया। बीते वर्ष प्रमोद मित्तल को कम्पनी के दो वर्कर के साथ गिरफ्तार भी किया गया था।