दुर्गा पंडाल में TMC सांसद नुसरत जहां ने किया पारंपरिक डांस, बजाया झाक, देखें VIDEO

0
34

नुसरत जहां मुसलमान हैं, और उन्‍होंने दूसरे धर्म में शादी की है । वो अपने पति के धर्म के हर परंपरा का पालन करती हैं, त्‍यौहारों में खूब सजती धजती हैं और सिंदूर लगाती हैं ।

New Delhi, Oct 24: पश्चिम बंगाल समेत पूरे देश में दुर्गा पूजा की धूम है, कोरोना काल में गाइडलाइन्‍स का पालन कर त्‍यौहार मनाए जा रहे हैं । आज दुर्गाष्टमी के मौके पर तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां ने कोलकाता में मां दुर्गा की पूजा की। नुसरत, कोलकाता के सुरुचि संघ पहुंचीं थीं, यहां उनके साथ निखिल जैन भी पहुंचे थे । नुसरत ने पारंपरिक वादन यंत्र ढाक यानी कि एक खास प्रकार का ढोलक भी बताया, उन्‍होंने पारंपरिक नृत्‍य भी किया ।

वीडियो वायरल
न्‍यूज एजेंसी एएनआई की ओर से नुसरत जहां की दुर्गा पंडाल से कुछ तस्वीरें और वीडियो जारी किए गए हैं । इन तस्‍वीरों में नुसरत जहां सुरुचि संघ के पंडाल में माता का दर्शन करती हुईं नजर आई हैं । वो ढाक की धुन पर नाचती भी हैं। नुसरत इसके बाद ढाक खुद भी बजाती हैं, उनके पति निखिल भी झाक बजाते हुए देखे गए । नुसरत ने वहां नाच रहीं महिलाओं के साथ डांस भी किया ।

पिछले साल भी पहुंची थीं पंडाल
पिछले साल भी नुसरत जहां पंडाल गई थीं और उन्होंने ‘सिंदूर खेला’ में हिस्सा लिया था, नुसरत की तब नई नई शादी हुई थी । नुसरत के हिंदू धर्म के इस त्यौहार में भाग लेने पर खूब हंगामा हुआ था । जिसके बाद नुसरत ने कहा था कि वह सभी धर्मों के लोगों का सम्मान करती हैं। नुसरत मुसलमान हैं, और उन्‍होंने दूसरे धर्म में शादी की है । वो अपने पति के धर्म के हर परंपरा का पालन करती हैं, त्‍यौहारों में खूब सजती धजती हैं और सिंदूर लगाती हैं ।

कोरोना को लेकर गाइडलाइन
आपको बता दें पिछले कुछ समय में पूजा के दौरान कोराना गाइडलाइन्‍स में कुछ बदलाव किए गए हैं । ढाकियों को पहले पंडाल में जाने की इजाजत नहीं थी, लेकिन अब वो पंडालों के नो-एंट्री जोन के भीतर रह सकते हैं, लेकिन उन्हें सभी सुरक्षा और स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। इसके अलावा बुधवार को ही कलकत्ता हाई कोर्ट ने सामुदायिक दुर्गा पूजा समारोह पर अपने आदेश को कुछ संशोधित करते हुए बड़े पंडालों में पूजा के लिए श्रद्धालुओं की संख्या भी 25 से बढ़ाकर 60 कर दी । लेकिन छोटे पंडालों में ये संख्‍या 15 ही थी ।