एक भैंस के दो दावेदार, यूपी पुलिस ने अपनाई ऐसी तरकीब, हर तरफ हो रही प्रशंसा

0
4

कभी-कभी ऐसे रोचक मामले सामने आते हैं जिनको सुनकर हंसी आए बिना नहीं रह सकते और देखा जाए तो यह बड़े मुद्दे भी होते हैं जिनको आसानी से हल नहीं किया जा सकता है, इसके लिए सूज भुज जरूरी होती है,ऐसा ही मामला कन्नौज पुलिस ने सुलझाया.आप को याद होगा की सपा सरकार ने आज़म खान की भैस ढूंढने पर चर्चा में आयी up पुलिस फिर चर्चा में है इस बार भी वजह भैस ही है.पर इस बार up पुलिस की सूझ बुझ की प्रसंशा हो रही है

यह अजीब घटना कन्नौज के तिर्वा इलाके से है.हुआ यह की कन्नौज के अलीनगर मे एक तो धर्मेंद्र नाम का व्यक्ति रहता है.तथा और तालाग्राम निवासी वीरेंद्र की भैंस चोरी हो गयी.उन दोनों ने अपनी अपनी रिपोर्ट लिखवाई. उसके बाद पुलिस ने भी एक्शन लिया और चोरी की भैंस बरामद कर ली.

इसकी जानकारी पुलिस ने इन दोनों की भी दी.तो यह भी थाने पहुंच गये. वहा तो मामला उल्टा हो गया क्योंकि एक भैंस के दो दो दावेदार हो गये. पुलिस भी परेशान. फिर एसएसआई विजयकांत मिश्र ने एक उपाय सोचा.उन्होंने यह फैसला भैंस पर डाल दिया की वो ही फैसला करेगी किसके साथ जाना है.फिर पुलिस की चालाकी से वही हुआ.भैंस को खुला छोड़ दिया फिर दूर से नज़र रखी. और धर्मेंद्र और वीरेंद्र को भी जाने दिया. फिर भैंस भी चली मगर अपने मालिक को पहचान गयी.तो दूसरा व्यक्ति भी राज़ी हो गया की भैंस उसकी है.

पुलिस की इस काम के लिए बहुत प्रशंसा हो रही है.कुछ समय पहले आपको बता दे यूपी पुलिस की एक घटना सामने आई थीं.जिसमे वे सपा नेता आज़म खान की भैंस ढूंढने के चककर मे सामने आई थी हालांकि यह घटना पुलिस की प्रशंसा के लायक है.यहां पुलिस ने चोरी की भैंस थाने लाकर त्रीवता दिखाई मगर एक भैंस के 2 दावेदार सामने आ गये. जिससे सब दुविधा मे पड़ गये.