Coronavirus Vaccine को लेकर बहुत बड़ी अपडेट, भारत बायोटेक ने स्‍वदेशी वैक्‍सीन की लॉन्‍च डेट बताई

0
5

कोरोना वायरस महामारी से बचाव के लिए तैयार की जा रही वैक्‍सीन को लेकर बहुत बड़ी अपडेट आई है । स्‍वदेशी कंपनी भारत बायोटेक ने क्‍या कुछ कहा है, आगे पढ़ें ।

New Delhi, Oct 24: कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए वैकसीन का ट्रायल कई देशों में जारी है । कुछ देशों ने अपने यहां तैयार की जा रही वैक्‍सीन को आपातकाल के समय इस्‍तेमाल करने की भी इजाजत दे दी हैं, लेकिन अभी तक इस बीमारी से बचाव की कोई वैक्‍सीन 10 प्रतिशत सुरक्षा के दावे के साथ नहीं बनी है । वैक्‍सीन पर दुनिया भर में हो रहे शोध के बीच भारतीय कंपनी भारत बायोटेक ने स्‍वदेशी कोरोना वायरस वैक्‍सीन को लेकर बड़ी अपडेट दी है ।

कब तक आएगी Covid 19 Vaccine…
भारत की जानी मानी कंपनी भारत बायोटेक कई महामारियों से बचाव के लिए वैक्‍सीन ला चुकी है, अब यहां के वैज्ञानिक कोराना से बचाव के लिए वैक्‍सीन पर शोध कर रहे हैं । भारत बायोटेक की ओर से ‘कोवैक्‍सिन’ पर काम चल रहा है । ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने कंपनी को इस वैक्‍सीन के तीसरे चरण के ट्रायल की मंजूरी दे दी है । कंपनी के मुताबिक कोरोना वायरस की यह स्‍वदेशी वैक्‍सीन अगले साल यानी 2021 के जून तक लॉन्‍च होने की पूरी संभावनाएं हैं ।

20 हजार से ज्‍यादा लोग शोध का बनेंगे हिस्‍सा
हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक कंपनी ने 2 अक्टूबर को डीसीजीआई को आवेदन देकर अपने टीके के तीसरे चरण के लिए परीक्षण की अनुमति israel coronavirus (5)मांगी थी । कंपनी अब इस शोध में 12 से 14 राज्‍यों के करीब 20,000 से अधिक लोगों को इस ट्रायल में शामिल करने वाली है । भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के एक्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्‍टर साई प्रसाद की ओर से जानकारी दी गई कि अगर सभी तरह की अनुमति कंपनी को ठीक समय पर मिल गईं तो ऐसे में संभावना है कि 2021 की दूसरी तिमाही तक वैक्‍सीन के तीसरे क्‍लीनिकल ट्रायल की सभी क्षमताओं और नतीजों के बारे में हमें पता चल जाएगा ।

कोवैक्‍सीन कैसे काम करेगी …
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानी कि आईसीएमआर औश्र नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के आपकी सहयोग से विकसित किया   जा रहा कोवैक्सिन एक ऐसा टीका है, जिसमें शक्तिशाली इम्‍यून सिस्‍टम विकसित करने के लिए कोविड-19 वायरस के ‘मारे गए विषाणुओं’ को शरीर में इंजेक्ट किया जाता है । भारत बायोटेक के अलावा भारत में सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया भी कोरोना वायरस संक्रमण की वैक्‍सीन ‘कोवीशील्‍ड’ बना रहा है । बताया जा रहा है कि इनका काम भारत बायोटेक से आगे चल रहा है, और इस कंपनी ने वैक्‍सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के लिए लोगों की चुनना भी शुरू कर दिया है ।