हेमा मालिनी को तिरुपति ले जाकर झटपट शादी करना चाहते थे जितेंद्र, धर्मेंद्र ने ऐसे तोड़ा प्लान

0
3

हेमा मालिनी अपने समय की बेहद पॉपुलर अभिनेत्री हैं। उनका पूरा नाम ‘hema malini ramanujam chakraborty’ है। वे जब 13 साल की थी तो उन्हें तेलुगु फिल्म पांडव वनवासन में ब्रेक मिल गया था। 1968 में आई ‘सपनों का सौदागर’ उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म थी। हालांकि उन्हें असली लोकप्रियता  ‘सीता और गीता’ फिल्म से मिली। रमेश सिप्पी की इस फिल्म में बॉलीवुड एक्टर धर्मेंद्र भी थे। बस इसी फिल्म के दौरान दोनों का प्यार पनपने लगा था।

धर्मेंद्र और हेमा ने फिर एक साथ कई फिल्में की, दिलचस्प बात यह थी कि उनकी जोड़ी वाली सभी फिल्में हिट भी हो रही थी। इस बीच दोनों का रिश्ता और भी मजबूत होता चला गया। आपकी जानकारी के लिए बात दें कि जब ये सब हो रहा था तब धर्मेंद्र पहले से ही शादीशुदा थे।

उधर दूसरी तरफ जितेंद्र को भी हेमा मालिनी से इश्क हो गया था। आलम ये था कि दोनों की बात शादी तक जा पहुंची थी। एक शाम चेन्नई में हेमा मालिनी के बगले पर दोनों के परिवार वाले मिलकर शादी की बात कर रहे थे। हालांकि ये खबर जैसे ही धर्मेंद्र को लगी तो उन्होंने तुरंत हेमा को मुंबई से फोन लगा दिया। वे बहुत गुस्से में थे। उन्होंने हेमा से कहा कि वह अपनी शादी के बारे में एक बार फिर सोच लें।

दूसरी ओर जितेंद्र भी हेमा से जल्द से जल्द शादी करना चाहते थे। उन्होंने हेमा से बोला कि फटाफट मेरे साथ तिरुपति चलो और शादी कर लो। हेमा इस बात पर विचार कर रही थी। इस बीच एक और फोन आया, इस बार फोन पर धर्मेंद्र नहीं बल्कि जीतेन्द्र की एक्स गर्लफ्रेंड एयर होस्टेस शोभा सिप्पी थी। उन्हें भी हेमा जितेंद्र की शादी पर चर्चा वाली बात की भनक लग गई थी। उन्होंने जितेंद्र को सलाह दी कि इस बारे में आराम से सोचे और जल्दबाजी में कोई फैसला न लें।

फिर 1978 में हेमा मालिनी के पिता का आकस्मिक निधन हो गया था। हेमा पिता के जाने के बाद बहुत अकेली पड़ गई थी। इस दौरान धर्मेंद्र ने उन्हें सहारा दिया और होसला बढ़ाया। इसके बाद हेमा ने धर्मेंद्र से ही शादी करने का मन बना लिया। दोनों ने 1979 में शादी रचा ली।

हालांकि ये शादी इतनी आसान भी नहीं थी। धर्मेंद्र की पहली पत्नी प्रकाश कौर ने उन्हें तलाक देने से इनकार कर दिया था। ऐसे में धर्मेंद्र ने दूसरी शादी करने के लिए इस्लाम धर्म कबूल लिया। इससे उन्हें पहली पत्नी के रहते हुए दूसरी महिला से शादी करने की अनुमति मिल गई।