रामविलास पासवान: 2 शादियां की, पहली पत्नी पुराने घर में रहती हैं, 4 बच्चों में से लोग सिर्फ चिराग को जानते हैं

0
846

रामविलास पासवान का राजनीतिक जीवन जितना ही प्रसिद्धी का हकदार रहा है, उतना ही उनका निजी जीवन विवादों का केंद्र रहा है। रामविलास पासवान को राजनीति की दुनिया का मौसम वैज्ञानिक कहा जाता था, लेकिन उनकी निजी जिंदगी की उठापटक संभालने और उसे समझने में उन्हें काफी लंबा वक्त लगा। रामविलास पासवान के राजनीतिक जीवन के बारे में सभी जानते हैं, लेकिन की निजी जिंदगी के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं।

cabinet-ministers-ram-vilas-paswan-passes-away-his-biography-family-wife-personal-life-and-love-story
Social Media

राम विलास पासवान ने दो शादियां की थी। उनकी पहली पत्नी आज भी बिहार के खगड़िया के उनके पैतृक आवास में रहती है। वह जब पहली बार छात्र नेता के तौर पर राजनीति में आए तभी पहली शादी हो गई। उनकी पहली शादी 14 साल की उम्र में हुई थी। पहली शादी से उनकी दो बेटियां हैं जबकि दूसरी शादी उनकी रीना शर्मा से हुई, उनसे उन्हें एक बेटा और एक बेटी है।

cabinet-minister-ram-vilas-paswan-dies-in-delhi
Social Media

रामविलास पासवान की दूसरी शादी काफी लंबे समय तक छुपी रही। दरअसल रामविलास पासवान हवाई यात्रा के दौरान रीना शर्मा से मिले। मुलाकाते बढ़ी और प्यार परवान चढ़ा। इसके बाद उन्होंने शादी कर ली। शादी की बाद उन्होंने काफी लंबे समय तक लोगों को इसकी भनक नहीं लगने दी। हालांकि कुछ राजनीतिक हलकों को जब इस बात की भनक लगी तो उन्होंने इसे चुनावी मुद्दा बनाने की कोशिश की। इस दौरान 1981 में रामविलास पासवान ने अपनी पहली पत्नी को तलाक दे दिया और रीना शर्मा से शादी कर ली।

cabinet-ministers-ram-vilas-paswan-passes-away-his-biography-family-wife-personal-life-and-love-story
Social Media

रामविलास पासवान राजनीति की दुनिया के वह दिग्गज नेता थे, जिन्हें कहा जाता था कि वो राजनीति की बदलती हवाओं का रुख भी समझ लेते थे। यही कारण था कि उन्होंने अपनी राजनीति के करियर में छह प्रधानमंत्रियों के साथ काम किया। बात चाहे यूपीए सरकार की हो या एनडीए सरकार की। हर बदलती सरकार में अपनी जगह बना ही लेते थे। इसके अलावा उन्होंने जिस भी क्षेत्र से चुनाव लड़ा वहां वह रिकॉर्ड तोड़ जीत दर्ज करते थे।

Social Media

रामविलास पासवान ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत साल 1969 में की थी। सबसे पहले सोशलिस्ट पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतकर वह बिहार विधान सभा के सदस्य बने थे। इसके बाद साल 1977 में रिकॉर्ड तोड़ जीत हासिल की। रामविलास पासवान फिर से 1980 और 1989 के लोकसभा चुनाव में जीत के बाद विश्वनाथ प्रताप सिंह की सरकार में पहली बार कैबिनेट मंत्री के तौर पर संसद में कदम रखा। इस दौरान उन्हें दूरसंचार और कोयला मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई।

Social Media

बात रामविलास पासवान की निजी जिंदगी की करें तो रामविलास पासवान की पहली पत्नी का नाम राजकुमारी देवी है। राजकुमारी देवी से उनकी दो बेटियां हैं, लेकिन उनके बारे में बेहद कम लोग जानते हैं। वहीं दूसरी ओर उनकी बड़ी बेटी ने कई बार इस बात को लेकर नाराजगी भी जाहिर की है। उनकी बड़ी बेटी का कहना है कि रामविलास पासवान ने उनकी मां को इसलिए छोड़ दिया क्योंकि वह अनपढ़ थी।

Social Media

वही रामविलास पासवान की दूसरी शादी रीना शर्मा से हुई। रीना शर्मा से रामविलास पासवान की दो बच्चे हैं। उनके बेटे चिराग को दुनिया भर में प्रसिद्धि हासिल है। चिराग पासवान को सभी लोग जानते हैं। चिराग पासवान ने पहले बॉलीवुड की दुनिया में अपनी किस्मत आजमाई, लेकिन वहां उनका सिक्का नहीं चला। इसके बाद वह पितृसत्ता की ओर आ गए और पिता की ही तरह राजनीति में अपनी किस्मत आजमानी शुरू कर दी।

पिता के निधन के बाद अब चिराग पार्टी की कमान संभालेंगे। वही पिता के निधन की जानकारी दी चिराग पासवान ने गुरुवार रात 8:40 पर दी। इस दौरान उन्होंने अपनी और पिता की फोटो साझा करते हुए कहा था- पापा अब आप इस दुनिया में नहीं है लेकिन मुझे पता है आप जहां भी हैं हमेशा मेरे साथ है… Miss you Papa