पिता के निधन के बाद पहली बार सौतेली माँ से मिले चिराग, तो बेटे गले लगाकार माँ ने कहीं ये बड़ी बात

0
7

इस समय बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर लगभग सभी पार्टीयो की तैयारियां जोरो शोरो से चल रही है।और ऐसे वक्त में राम विलास पासवान के निधन के बाद पार्टी के साथ साथ परिवार की भी सारी जिम्मेवारी उनके पुत्र चिराग पासवान के कंधो पर आ गई है। पार्टी की जिम्मेवारी वे पिछले1 वर्ष से संभालते आ रहे है लेकिन पिता के निधन के बाद जिम्मेदारियों का बोझ और भी उनके कंधो पर बढ़ गया है।

ये भी पढ़ें – 2 शादियां की थी पासवान जी ने,पहली पत्नी झोपड़ी में ही रहती है,चार बच्चे हैं,लेकिन दुनिया सिर्फ चिराग को जानती हैं

अब चिराग को पार्टी के साथ साथ परिवार को भी लेकर चलना है। इस बार एनडीए पार्टी से पृथक होकर अपने पार्टी के साथ चुनाव लड़ने की तैयारी में है। जिससे चिराग को बिहार विधासभा में चुनौतीपूर्ण चुनाव लड़ना होगा।

राम विलास पासवान के निधन और चुनाव के घटनाक्रम में राम विलास पासवान की पहली पत्नी और चिराग की सौतेली माँ राजकुमारी देवी चर्चा के विषय में बनी हूई है। मिडिया से मुखातिब होकर राजकुमारी देवी ने बताया की चिराग पहली बार उनसे मिले। आपको बता दे कि लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान अपने पिता का अस्थि विसर्जन करने वे अपने पैतृक गाँव शहरबन्नी गए थे। इसी दौरान वे अपनी सौतेली माँ से मिले थे।

मिडिया से क्या बोली राजकुमारी देवी

राजकुमारी देवी ने मिडिया को बताया की राम विलास पासवान के निधन के बाद वे उनके अंतिम दर्शन के लिए पटना स्थित उनके आवास पर गई थी। राजकुमारी देवी ने ये भी बताया की जब चिराग पासवान अपने पिता के अस्थि विसर्जन के लिए अपने पैतृक गाँव शहरबन्नी आए थे तब उन्होने पैर छूकर मुझसे आशीर्वाद लिया।

राजकुमारी देवी ने बताया की उनके पति रामविलास पासवान जी जब जीवित थे। तब तक चिराग से उनकी बातचीत नही होती थी लेकिन अब चिराग को पार्टी के साथ-साथ पूरे परिवार सह उनका भी ख्याल रखना होगा। उन्होंने चिराग पासवान को ही अपना सहारा माना।

चुनावी जीत के लिए दिया आशीर्वाद

बिहार विधानसभा में चुनावी जीत के लिए राजकुमारी देवी ने बेटे चिराग को आशीर्वाद दिया और कहा कि इस बार चुनाव में वे ही जीत हासिल करेंगे। राजकुमारी देवी ने नवभारत टाइम्स के साथ बातचीत के दौरान बताया कि अब चिराग को उनके निर्णय को मानना चाहिए और वे भी चिराग के हर बात को मानेगी। उन्होंने ने बताया कि उनके पति की दूसरी शादी के बाद उनका बेहद सम्पर्क कम हो गया था।

आपके जानकारी के लिए बता दे कि राजकुमारी देवी जो कि राम विलास पासवान की पहली पत्नी है वे आज भी अपने पैतृक गाँव शहरबन्नी में रहती है जो कि खगड़िया जिले में स्थित है।