दुर्गापूजा पंडाल में अपनी मूर्ति देख सोनू सूद ने कह दी बड़ी बात, वायरल हो रहा ये ट्वीट

0
20

बात सिर्फ यही खत्म नहीं होती है, सबसे खास बात तो ये है कि सोनू अब भी लोगों की मदद कर रहे हैं, सोशल मीडिया पर ट्वीट के जरिये जो भी सोनू से मदद मांगता है, वो उनकी मदद करने में कसर नहीं छोड़ते।

New Delhi, Oct 22 : कोरोना संक्रमण की वजह से देशभर में हुए लॉकडाउन से लोगों को बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ा, इस दौरान सबसे ज्यादा समस्याएं प्रवासी मजदूरों को हुई, जो अपने गांव घर से दूर दूसरे शहरों में काम कर परिवार का भरण-पोषण करते थे, कोरोना काल में सबसे ज्य़ादा प्रभावित दिहाड़ी मजदूर हुए, उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ने लगी, वो पैदल ही 1000-1500 किमी का सफर तय कर अपने-अपने गांव वापस लौटने लगे, ऐसे में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने उन मजदूरों का दर्द देखा, उन्हें अपने घर पहुंचने में मदद की, जिसकी खूब सराहना हुई।

लोगों की मदद
बात सिर्फ यही खत्म नहीं होती है, सबसे खास बात तो ये है कि सोनू अब भी लोगों की मदद कर रहे हैं, सोशल मीडिया पर ट्वीट के जरिये जो भी सोनू से मदद मांगता है, sonu sood वो उनकी मदद करने में कसर नहीं छोड़ते, ऐसे में कई लोग सोनू को भगवान का दर्जा देने लगे, न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार दुर्गा पूजा के पावन अवसर पर कोलकाता में एक दुर्गा पूजा समिति ने अपने पूजा पंडाल में सोनू की मूर्ति लगाई है और उन्हें भगवान का दर्जा दिया है, इस पर सोनू ने एक ट्वीट कर आभार जताते हुए कहा है कि ये उनका अब तक का सबसे बड़ा अवॉर्ड है।

पंडाल में सोनू
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रफुल्ला कन्नन वेलफेयर एसोसिएशन नाम की पूजा समिति ने जो पंडाल इस साल तैयार किया है, वह प्रवासी मजदूर के थीम पर बेस्ड है, इस दौरान उन्होने प्रवासी मजदूरों की मदद करने के लिये सोनू सूद को सम्मान दिया है, उनकी एक मूर्ति भी पंडाल में लगाई है, इस पूजा समिति के सदस्य सृंजय दत्ता ने कहा कि समिति ने सोनू सूद की मूर्ति इसलिये लगवाई है, ताकि लोग उनसे जरुरतमंद लोगों की मदद करने के लिये प्रेरणा ले सकें।

बच्चों के नाम रखे
लॉकडाउन के दौरान जब सोनू सूद लोगों की मदद कर रहे थे, तो उस दौरान एक प्रेग्नेंट महिला को बेटा हुआ था, जिसने अपने बेटे का नाम सोनू सूद श्रीवास्तव रखा, महिला ने कहा कि वो सोनू की वजह से ही सही सलामत अपने घर पहुंच पाई, इसी वजह से उन्होने अपने बेटे का नाम उनके नाम पर रखा है।