Gold Price: अब भारत में ही तय होंगे सोने के दाम, जानिए खरीदने पर रेट में क्या होगा असर

0
6

नई दिल्ली. अब आप जल्द भारत में तय किए गए गोल्ड के रेट में खरीद सकेगें। बता दें कि दुनिया में गोल्ड की खपत के मामले में टॉप 5 देशों में भारत ने अब बड़ा फैसला लिया है। रिपोर्ट के अनुसार, जल्द ही देश में ऐसा सिस्टम बनाया जाएगा, जिसके बाद देश में गोल्ड के रेट तय होंगे। अभी देश में गोल्ड का रेट लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन (एलबीएमए) से होता है। यही के भाव देखकर भारत में सोने का रेट तय होता है और उसी आधार पर कारोबार होता है।

आप को यह जानकर हैरानी होगी कि देश में आजादी के 70 साल के बाद भी गोल्ड का रेट विदेश के एक्सचेंज से होता है। इससे विदेशी कारण भारत के गोल्ड रेट पर हावी हो जाते हैं, जिससे भारत में गोल्ड खरीदने वालों को नुकसान होता है। आइये जानते हैं कि गोल्ड का रेट तय करने के लिए क्या कदम उठाया जा रहा है।

जानिए क्या है तैयारी

भारत में अब इंटरनेशनल बुलियन एक्सचेंज खोलने की तैयारी शुरू हो गई है। यहां पर गोल्ड और सिल्वर पर स्पॉट ट्रेडिंग हो सकेगी। जैसे ही भारत में यह बुलियन एक्सचेंज खुलेगा, तो इसका सबसे बड़ा फायदा देश में सोने की कीमत खुद तय करने से हो सकेगी। अंतरराष्ट्रीय सटोरियों के कारण भारत में बेवजह सोने के भाव ऊपर नीचे होते हैं, जो इसके बाद नहीं हो सकेंगे।

कहां खुलेगा बुलियन एक्सचेंज

बुलियन एक्सचेंज को गुजरात स्थित अहमदाबाद के पास इंटरनेशनल फाइनेंस टेक सिटी (गिफ्ट सिटी) में स्थापित किया जाएगा। इस बुलियन एक्सचेंज की स्थापना की तैयारी इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर अथॉरिटी (आईएफएससीए) की देखरेख में हो रही है। वहीं आईएफएससीए बुलियन एक्सचेंज के नियामक के रूप में भी काम करेगा।

वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के सचिव तरुण बजाज ने बुलियन एक्सचेंज के बारे में बताया कि अगले कुछ महीनों में यह एक्सचेंज काम करने लगेगा। एक औद्योगिक संगठन के वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि भारत विश्व भर में सोने का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता है। ऐसे में सरकार ने अपना बुलियन एक्सचेंज शुरू करने का फैसला किया है। जहां तक गोल्ड की खतप की बात है तो वर्ष 2019 में भारत में लगभग 700 टन सोने की खपत हुई थी।