पिता की मौत के बाद पहली बार सौतेली मां से मिले चिराग पासवान, लगाया गले, भावुक हुईं राजकुमारी

0
4

चिराग पासवान के उनसे मिलने के बाद राजकुमारी देवी ने कहा मैंने चिराग को चुनाव में जीत का आशीर्वाद दिया है और इसबार वही जीतेंगे।

New Delhi, Oct 21: बिहार विधानसभा चुनाव से ऐन पहले राम विलास पासवान के निधन ने चिराग पासवान के कंधों पर बहुत बड़ी जिम्‍मेदारियां डाल दीं, पार्टी को तो वो पिछले साल से ही संभाल रहे थे लेकिन पिता के चले जाने से परिवार की जिम्‍मेदारियां भी उन पर आ गईं । चिराग ने इस बार एनडीए से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है, जिसके चलते इस बार चुनाव चुनौती होंगें । बहरहाल इस पूरे घटनाक्रम में चिराग पासवान की सौतेली मां चर्चा में रही हैं । अब राजकुमारी देवी ने मीडिया से बातचीत की है, बताया है कि चिराग उनसे मिले थे ।

राजकुमारी देवी का बयान
राम विलास पासवान की पहली पत्‍नी राजकुमारी देवी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि पति के निधन के बाद उनके अंतिम दर्शन करने के लिए वो पटना गई थीं । इसी सोमवार को लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान अपने पिता राम विलास पासवान की अस्थियों का विसर्जन करने अपने पैतृक गांव शहरबन्नी पहुंचे थे। त‍ब चिराग अपनी सौतेली मां राजकुमारी देवी से भी मिले थे।

चिराग ने लिया आशीर्वाद
राजकुमारी देवी ने बताया कि चिराग ने पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया और इसके बाद उन्होंने मुझे गले लगा लिया। राम विलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी आगे कहती हैं कि,  जब तक राम विलास जी जिंदा थे चिराग उनसे ज्यादा बात नहीं करते थे। लेकिन अब तो चिराग को ही मेरा ख्याल रखना होगा। इसके अलावा राजकुमारी देवी ने अपने बेटे चिराग पासवान को ही अपना सहारा भी बताया।

चुनाव जीतने का दिया आशीर्वाद
राजकुमारी देवी ने कहा मैंने चिराग को चुनाव में जीत का आशीर्वाद दिया है और इसबार वही जीतेंगे। नवभारत टाइम्‍स के साथ हुई इस बातचीत में राजकुमारी देवी ने आगे कहा चिराग को उनकी बात माननी चाहिए और वो भी चिराग की हर बात मानेगीं। उन्होंने बताया कि राम विलास जी की दूसरी शादी करने के बाद मेरा उनसे संपर्क बेहद कम हो गया था, लेकिन मेरी दोनों बेटियां मुझसे मिलने अक्सर गांव आती रहती हैं। आपको बता दें राम विलास पासवान की पहली पत्नी आज भी खगड़िया जिले में उनके पैतृक गांव शहरबन्नी के घर पर ही रहती हैं।