राहुल राजपूत मामला : प्यार का दुश्मन था परिवार, लड़की ने वीडियो के जरिए खोली परिवार की साजिश की पोल

0
1

राजधानी दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में बुधवार शाम दूसरे धर्म की लड़की से दोस्ती करने के नाम पर एक 19 वर्षीय राहुल लड़के राजपूत की हत्या कर दी गई। इस मामले का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद यह खुलासा हुआ कि जिस वक्त युवक पर हमला हुआ उस वक्त वह लड़की भी उसके साथ थी। इस दौरान कुछ लड़के दोनों को फॉलो कर रहे थे। पुलिस अब इस मामले में लड़की को प्रमुख गवाह बना सकती है, क्योंकि लड़की उस वक्त वहां मौजूद थी। सभी आरोपी लड़की के जानकार हैं, जिनमें से दो लड़की के भाई हैं जबकि तीन अन्य नाबालिक है। इस मामले में अब लड़की ने भी अपना बयान जारी कर दिया और परिवार की पूरी साजिश की पोल खोल दी।

Social Media

गौरतलब है कि मौके पर मौजूद लड़की इस मामले में एकलौती चश्मदीद गवाह है, जिसने अपने दोस्त राहुल के आरोपियों से बचाने की भी कोशिश की थी। लड़की ने घटना वाली रात के बारे में बताते हुए एक वीडियो जारी किया है। उसने बताया कि किस तरह उसके सगे भाई, ममेरे भाई ने राहुल को फोन करके झांसा देकर ट्यूशन की बात के लिए बुलाया और फिर अलग जगह ले जाकर उसे बहुत मारा पीटा। लड़की ने बताया कि इस दौरान मैं रोती रही, चिल्लाती रही कि राहुल को मत मारो…मगर किसी ने मेरी नहीं सुनी।

Social Media

राहुल की दोस्त ने बातचीत का एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि उस दिन हम दोनों पूरा दिन साथ में थे। राहुल की तबीयत ठीक नहीं थी। शाम 6:00 बजे मेरे मामा के लड़के का फोन आया और उन्होंने कहा कि राहुल का नंबर नहीं लग रहा है, तो मैंने उसे बताया कि राहुल की मम्मी ने वह फोन बेच दिया है। लड़की ने बताया कि उसने कहा कि कोई और नंबर हो तो दे दो, फिर मैंने उसे चाची का नंबर दे दिया। इसके बाद उन्होंने चाची के नंबर पर कॉल किया फिर बातचीत कर मिलने के लिए बुलाया।

Social Media

लड़की ने बताया कि फोन काटने के बाद राहुल ने मुझ्सेसे पूछा भी था कि जाऊं या नहीं जाऊं…मैंने ही कहा कि 5 मिनट के लिए चले जाओ…कहीं बात कर लेंगे। मैं बाहर निकल कर मामा के लड़के का फोन करती हूं कि राहुल 5 मिनट के लिए मिलेगा वह मिलने के लिए बुलाते हैं फिर राहुल को मार देते हैं। लड़की ने बताया कि मारपीट में मेरा सगा भाई और मेरा मामा का लड़का शाहनवाज सहित सात आठ लड़के भी इस हमले में शामिल थे।

Social Media

लड़की ने बताया कि जहां यह घटना हुई उसी के थोड़ी दूरी पर पुलिस चौकी कि मैं भागकर वहां भी गई और कहती रही कि वहां पर मारपीट हो रही है, लेकिन वहां कोई नहीं आया। वह लोग कहते रहे कि वहां जाओ, वहां जाओ। लड़की का आरोप है कि इस मामले को हाथरस केस से जोड़कर नहीं देखा जा सकता…मैं सीबीआई जांच चाहती हूं ।राहुल को इंसाफ मिलना चाहिए।

Social Media

वह इस मामले पर राहुल के पिता का कहना है कि इस मामले में जो नाबालिग दोषी पाए गए हैं। उन पर भी बालिक की तरह ही कार्रवाई होनी चाहिए, क्योंकि इन लोगों ने राहुल को बेहद प्रोफेशनल क्रिमिनल की तरह मारा है। उनका मकसद राहुल का मर्डर करना ही था।

Social Media

फिलहाल पुलिस इस मामले में पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है। इस मामले में अब तक पांच लोगों की गिरफ्तारी हुई है, जिनमें तीन नाबालिक है जबकि तीन आरोपी अभी भी मौके से फरार चल रहे हैं।