फेस्टिवल पर रेलवे शुरु कर रहा नए 392 स्‍पेशल ट्रेनें, जरुर जान लें टिकट बुकिंग के ये नियम

0
3

नई दिल्ली: Indian Railways Festival Special Trains. देश में फेस्टिवल सीजन पर इंडियन रेलवे (Indian Railways) ने ट्रेनों के संचालन को लेकर बड़ी कवायद शुरु कर रहा है। वही रेलवे ने टिकट बुकिंग और रिजर्वेशन चार्ट को लेकर कई बड़े बदलाव किए हैं। नियमों में हुए बदलाव के बाद से यात्रियों को अचानक ट्रेन टिकट बुकिंग के लिए पहले की तुलना में ज्यादा समय मिलेगा। यानी अब ट्रेन के स्टेशन से निकलने से पहले यात्री 30 मिनट तक टिकट बुकिंग कर सकेंगे।

 

दरअसल आप को बता दें कि त्‍योहारी सीजन में बढ़ी मांग को देखते हुए भारतीय रेलवे 20 अक्‍टूबर 2020 से 392 स्‍पेशल ट्रेनें शुरू कर रहा है। ये फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें कोलकाता, पटना, वाराणसी, लखनऊ दिल्‍ली से चलेंगी ताकि दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली, छठ पूजा पर यात्रियों की जबरदत मांग को पूरा किया जा सके। फेस्टिवल स्‍पेशल ट्रेनों के साथ ही लॉकडाउन के बाद अब तक शुरू की जा चुकीं ट्रेनों के लिए आरपीएफ (RPF) ने सख्‍त नियम जारी किए हैं।

पहले क्या था नियम?
रेलवे द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि कोरोना काल से पहले के नियम के तहत, पहला रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन खुलने के 4 घंटे पहले तैयार होता है। इसके बाद इंटरनेट या PRS सिस्टम के जरिए उपलब्ध बुकिंग पहले-आओ-पहले-पाओ आधार पर होती थी। यह बुकिंग दूसरे रिजर्वेशन चार्ज बनने से पहले तक होता था।

किन यात्रियों को मिलेगा फायदा?

बता दें रेलवे के इस नए नियम का फायदा उन यात्रियों को होगा जो अचानक कहीं जाने के लिए निकलते हैं। ऐसे यात्रियों के लिए ट्रेन के खुलने से 30 मिनट पहले तक ऑनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों से टिकट बुकिंग की सुविधा होगी।

इसके अलावा दूसरा चार्ट तैयार होने से पहले टिकट बुकिंग की सुविधा ऑनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों पर उपलब्ध रहेगी। ट्रेन छूटने से 30 मिनट पहले चार्ट बनाने की तकनीक को बहाल करने के लिए रेल सूचना प्रणाली केंद्र (क्रिस-CRIS) सॉफ्टवेयर में आवश्यक संशोधन कर दिया है।