रात 10 बजे फोन कर मांगी मदद, तो भड़के वरुण गांधी, कहा तुम्हारे बाप का नौकर नहीं

0
13

मामले में वरुण गांधी ने कहा कि मेरी तरफ से कभी गलत लोगों को संरक्षण नहीं दिया जाता है, ना ही दिया जाएगा, गलत काम करने वाले लोग मुझसे किसी भी प्रतार से मदद नहीं कर पाएंगे।

New Delhi, Oct 20 : पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी का एक ऑडियो क्लिप इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, इस वायरल वीडियो में वरुण गांधी एक शख्स को रात 10 बजे फोन पर मदद मांगने पर डांटते हुए सुनाई दे रहे हैं, फोन करने वाला शख्स सर्वेश उनके संसदीय क्षेत्र का निवासी है, तथा अवैध शराब बेचने का आरोपित है, वायरल ऑडियो में देर रात फोन करने पर वरुण गांधी कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि मैं तुम्हारे बाप का नौकर नहीं हूं।

पुलिस ने की छापेमारी
दरअसल फोन करने वाले सर्वेश के घर पर रात में पुलिस ने छापेमारी की थी, छापे में घर के अंदर से अवैध शराब मिली, इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सर्वेश को हिरासत में ले लिया, तथा थाना सुनगढी की आसमरोड चौकी पर ले आये, चौकी से सर्वेश ने वरुण गांधी को फोन कर मदद मांगी, रात करीब 10 बजे फोन करने पर सांसद वरुण गांधी भड़क गये, उन्होने सर्वेश को डांटते हुए कहा कि मैं तुम्हारे बाप का नौकर नहीं हूं, सुबह फोन करना, अब वरुण का ये ऑडियो क्लिप खूब वायरल हो रहा है।

शराब तस्कर ने किया ऑडियो वायरल
जमानत पर रिहा होने के बाद सर्वेश ने सांसद से हुए बातचीत का ऑडियो क्लिप वायरल किया है, पूरे घटनाक्रम के बाद दो वीडियो भी जारी हुए हैं, जिसमें एक में पुलिस आरोपी के घर जाकर चेकिंग कर रही है और आरोपी फोन पर व्यस्त है, वहीं दूसरे में युवक सांसद से माफी मांग रहा है।

सांसद ने कही ये बात
मामले में वरुण गांधी ने कहा कि मेरी तरफ से कभी गलत लोगों को संरक्षण नहीं दिया जाता है, ना ही दिया जाएगा, गलत काम करने वाले लोग मुझसे किसी भी प्रतार से मदद नहीं कर पाएंगे, शराब की तस्करी या पेड़ों की कटाई आदि करने वाले लोग मेरी राजनीति का हिस्सा नहीं है, मैं साफ-सुथरी छवि से ईमानदारी पूर्वक राजनीति करता हूं। ऑडियो वायरल होने के बाद सपा ने वरुण गांधी और बीजेपी पर निशाना साधा, सपा एमएलसी सुनील सिंह सजन ने ट्वीट करते हुए लिखा, बीजेपी सांसद वरुण गांधी जनता को कह रहे हैं कि मैं तुम्हारे बाप का नौकर नहीं हूं, वरुण पिछले हफ्ते ही हाईकोर्ट ने कहा था कि सरकार जनता की सेवक है शासक नहीं, लेकिन सामंतवाद बीजेपी की परंपरा है और पिछड़े-दलित आपके लिये सांप-छछूंदर, जनता इसका जवाब देगी कौन किसके बाप का नौकर है।