87 की उम्र में जोशी अंकल दर्जियों से कपड़ों के टुकड़े इकट्ठा कर थैला सिल, 40-60 रुपए में बेचते हैं

0
13

हमारे समाज में ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो हर वक्त लोगों को प्रेरित करते हैं। उनके लगन, मेहनत और प्रयास से उनके लिए हर चीज़ संभव होता है। जहां कुछ लोग बैठकर सिर्फ़ दूसरों से ही मदद की आस लगाए रहते हैं, तो वहीं दूसरी ओर कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपने उम्र के आखिरी पड़ाव पर भी अपनी मेहनत से ही अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं।

जोशी अंकल कपड़ों के टुकड़ों को इकट्ठा कर सिलते हैं थैला

joshi-uncle
twitter

मुंबई वाले जोशी अंकल का नाम ऐसे कर्मठ और मेहनती लोगों में आता है, जो आत्मनिर्भर भारत का एक बेहतरीन नमूना पेश कर रहे हैं। वो 87 साल की उम्र में भी शहर में घूम घूम कर दर्जियों के दुकानों से कपड़ो के टुकड़ों को इकठ्ठा करते हैं और उन टुकड़ों को जोड़कर उससे ख़ुद थैला बनाते हैं।

कितनी कीमत होती है थैलों की?

जोशी अंकल जो कपड़ों को जोड़ जोड़ कर थैला सिलते हैं, वह उन्हें 40 से 60 रुपए में लोगों से बेचते हैं। और इसी से अपना और अपने परिवार का खर्च चलाते हैं। ये अपने बनाए हुए थैलों को मुंबई के Phadke road Dombivli में घूम- घूम कर बेचते हैं।

बाक़ी कहानियों की तरह इनकी भी कहानी को लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। जो अभी भी अपनी उम्र को दरकिनार कर अपनी मेहनत से पैसे कमा रहे हैं। हमारी भी लोगों से यही गुज़ारिश है कि अगर आप मुंबई या उसके आसपास के क्षेत्र में रहते हैं तो आप भी इनसे ज़रूर स्वदेशी थैला खरीदें। ताकि इन्हें खुशी के साथ-साथ आर्थिक मदद भी मिल सके।

अगर आप भी जोशी अंकल से थैले खरीदना चाहते हैं तो आप इस नम्बर पर उनसे सम्पर्क भी कर सकते हैं: – 8291036120