इस्लामिक कट्टरता: पेरिस में शिक्षक ने की पैगंबर के कार्टून पर चर्चा, तो हमलावर ने काट दिया सिर

0
0

पैगंबर मोहम्मद पर चर्चा करने को लेकर एक शिक्षक का सिर काट दिया गया। बताया जा रहा है कि पेरिस के उत्तर-पूर्वी इलाके में एक शख्स ने अपने बच्चे के इतिहास के शिक्षक का सिर इसलिए काट दिया। क्योंकि उसने पैगंबर मोहम्मद का कार्टून बच्चों को दिखाया और उस पर चर्चा की। एक पुलिस अधिकारी ने इस मामले पर जानकारी देते हुआ कहा कि इतिहास के शिक्षक से नाराज होकर हमलावर ने चाकू से उसका सिर काट दिया। जैसे ही पुलिस को इस हमले की जानकारी मिली तो पुलिस मौके पर पहुंच गई। लेकिन आरोपी वहां से भाग निकला।

जोर-जोर से लगाए नारे

पुलिस के अनुसार घटना स्थल से करीब 600 मीटर दूर जाकर आरोपी जोर से नारे लगाने लगा और सरेंडर करने से इनकार कर दिया। आरोपी ने अपनी बंदूक से पुलिस पर गोली चलाना शुरू कर दिया। जिसके कारण पुलिस को जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी। इस कार्रवाई में आरोपी मारा गया। वहीं इस घटना के बाद से पुलिस ने पूरे इलाके को घेर रखा है और भारी बल की तैनात की गई है।

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने जताया शौक

इस घटना पर राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने एक बयान जारी किया और इसे इस्लामिक आतंकवादी हमला करार दिया है। साथ में ही इन्होंने देश से चरमपंथ के खिलाफ एकजुट होने का आग्रह किया। राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने उस स्कूल का दौरा भी किया। जहां पर ये अध्यापक पढ़ाया करता था। ये स्कूल कोनफ्लांस-सेंट-होनोरीन कस्बे में है। राष्ट्रपति ने विद्यालय के स्टाफ से भी मुलाकात की। इन्होंने कहा कि हमारे एक हमवतन की आज इसलिए हत्या कर दी गई क्योंकि उसने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, विश्वास करने या न मानने की स्वतंत्रता सिखाई थी।

फ्रांस में पिछले तीन हफ्तों में दूसरी बार आतंकी घटना हुई है। इससे पहले फ्रांस की राजधानी पेरिस के उत्तर-पूर्वी इलाके में पैगंबर मोहम्मद को लेकर हुए विवाद हुआ था। जिसमें दो लोगों की जान चली गई। वहीं अब पैगंबर मोहम्मद का कार्टून बच्चों को दिखाने के कारण एक अध्यापक का सिर ही काट दिया गया। फ्रांस में हो रही ये घटनाएं साफ संदेश दे रही हैं कि इस देश की माहौल खराब होता जा रहा है और यहां पर आंतकवाद तेजी से फैल रहा है।

आपको बता दें कि फ्रांस में दूसरा सबसे बड़ा धर्म है इस्लाम। फ्रांस में 50 लाख मुस्लिम रहते हैं। इस समय फ्रांस सरकार इस्लामिक कट्टरपंथियों को लेकर एक विधेयक पर काम कर रही है।