Navratri 2020: नवरात्रि में देवी मां का नौवां रूप : (सोमवार) – मां सिद्धिदात्री,नवरात्रि पारणा,विजय दशमी…जुड़ी हर वो चीज जो आप जानना चाहते हैं

0
3

Navratri 2020: नवरात्रि में देवी मां का नौवां (नवमी) रूप : (सोमवार) – मां सिद्धिदात्री,नवरात्रि पारणा,विजय दशमी…जुड़ी हर वो चीज जो आप जानना चाहते हैं

दिन : 25 अक्टूबर 2020 (रविवार – Sunday )

मां का स्वरूप : मां सिद्धिदात्री कमल के फूल पर विराजमान हैं और उनकी चार भुजाएँ हैं। मां सिद्धिदात्री की सवारी सिंह हैं। देवी ने सिद्धिदात्री का यह रूप भक्तों पर अनुकम्पा बरसाने के लिए धारण किया है। देवता, ऋषि-मुनि, असुर, नाग, मनुष्य सभी मां के भक्त हैं।

मां की पूजा विधि : सबसे पहले मां सिद्धिदात्री के समक्ष दीपक जलाएं। अब मां को लाल रंग के नौ फूल अर्पित करें। कमल का फूल हो तो बेहतर है। इन फूलों को लाल रंग के वस्त्र में लपेटकर रखना चाहिए। इसके बाद माता को नौ तरह के खाद्य पदार्थ चढ़ाएं। अपने आसपास के लोगों में प्रसाद बांटे। साथ ही गरीबों को भोजन कराएं। इसके बाद स्वयं भोजन ग्रहण कर लें।

मां का भोग : विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं।

मंत्र : या देवी सर्वभूतेषु मां सिद्धिदात्री रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

: “ॐ सिद्धिदात्री देव्यै नमः”।।

आशीर्वाद : हर प्रकार की सिद्धि प्रदान करतीं हैं।

वहीं इसी दिन से दशमी लग जाने के चलते इस बार 25 अक्टूबर को ही दशहरा मनाया जाएगा। वहीं दशमी अगले दिन यानि 26 अक्टूबर को सुबह 9 बजे तक रहने के कारण इस दिन देवी मां की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाएगा